Home देश सामान्य मेजर और दो जवानों के शहीद होने के बाद सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में ढेर किए दो आतंकी

मेजर और दो जवानों के शहीद होने के बाद सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में ढेर किए दो आतंकी

आउटलुक टीम - JUN 18 , 2019
मेजर और दो जवानों के शहीद होने के बाद सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में ढेर किए दो आतंकी
मेजर और दो जवानों के शहीद होने के बाद सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में ढेर किए दो आतंकी
File Photo
आउटलुक टीम

जम्मू-कश्मीर में सोमवार को सुरक्षाबलों पर तीन आतंकी हमलों के बाद सेना अलर्ट पर है। सोमवार को अनंतनाग में मुठभेड़ के दौरान मेजर के शहीद होने और पुलवामा में हुए आईडी ब्लास्ट में घायल हुए 9 जवानों में से दो के शहीद होने के एक दिन बाद यानी मंगलवार को अनंतनाग में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया। इस एनकाउंटर में एक जवान शहीद हो गया जबकि एक घायल हैं। सोमवार को हुए आईडी ब्लास्ट में 9 जवान घायल हुए थे, जिसमें से दो की हालत गंभीर बनी हुई थी। ये दोनों जवान मंगलवार सुबह शहीद हो गए हैं।

पिछले 24 घंटे में घाटी में एक मुठभेड़ और 2 अन्य आतंकी हमलों में एक पाकिस्तानी आतंकी ढेर हुआ है। इन हमलों में एक अधिकारी समेत सुरक्षाबलों के 12 जवान घायल हुए। 2 आम नागरिक भी घायल हुए हैं। सोमवार को आईडी ब्लास्ट में घायल हुए 9 जवान में से दो की हालत गंभीर बनी हुई थी, जिनका आज निधन हो गया था।

पहला हमला

अनंतनाग जिले के अचबल में सुरक्षाबलों को सोमवार सुबह-सुबह आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। इसके बाद इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया। आतंकियों की इसकी भनक लगी और उन्होंने सुरक्षाबलों पर हमला करना शुरू कर दिया। इस हमले में मेजर केतन शर्मा शहीद हो गए वहीं एक अन्य अधिकारी और 2 जवान घायल हो गए। मुठभेड़ के दौरान एक आतंकी को ढेर कर दिया गया, जिससे हथियार और गोला बारूद भी बरामद किया गया है। घायल अफसर और जवानों को श्रीनगर में आर्मी के 92 बेस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

19 राष्ट्रीय राइफल्स के शहीद मेजर केतन शर्मा यूपी के मेरठ के रहने वाले हैं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्हें एक पाकिस्तानी आतंकवादी का शव मिला है। एनकाउंटर वाली जगह से बड़े पैमाने पर हथियार और गोला-बारूद मिले हैं।

दूसरा हमला

पुलवामा के अरिहल गांव में सेना की राष्ट्रीय राइफल्स के एक वाहन पर आईईडी के जरिए हमला किया गया। एक अधिकारी ने बताया जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार को आतंकवादियों ने सेना के एक गश्ती काफिले को निशाना बनाते हुए एक वाहन से बंधे आईईडी में विस्फोट कर दिया, जिसमें 9 जवान और 2 नागरिक घायल हो गए। उन्होंने बताया दक्षिण कश्मीर के इस जिले में अरिहाल-लस्सीपोरा सड़क पर आतंकवादियों ने ईदगाह अरिहाल के पास 44 राष्ट्रीय राइफल्स के कई वाहनों वाले गश्ती दल को निशाना बनाया। हमला होते ही सेना के जवान तुरंत हरकत में आ गए और इलाके को घेर लिया और किसी दूसरे हमले को टालने के लिए हवा में गोलियां चलाईं।

आतंकियों ने जिस जगह पर आईईडी ब्लास्ट किया था, वह 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले वाली जगह से 27 किलोमीटर दूर है। पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे।

तीसरा हमला

सेना के वाहन पर हमले के बाद त्राल में सीआरपीएफ की 180वीं बटैलियन के मुख्यालय पर ग्रेनेड फेंककर हमला किया गया। अज्ञात हमलावरों ने मुख्यालय में मौजूद जवानों को निशाना बनाने की साजिश रची, हालांकि यह ग्रेनेड कैंप के बाहर की गिरकर फट गया। इस हमले में किसी के भी हताहत होने की सूचना नहीं है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से