Home देश सामान्य कोरोना की जांच को लेकर कैबिनेट सचिव का बड़ा बयान, कहा- वास्तविक स्थिति में भारी अंतर

कोरोना की जांच को लेकर कैबिनेट सचिव का बड़ा बयान, कहा- वास्तविक स्थिति में भारी अंतर

आउटलुक टीम - MAR 27 , 2020
कोरोना की जांच को लेकर कैबिनेट सचिव का बड़ा बयान, कहा- वास्तविक स्थिति में भारी अंतर
कोरोना वायरस को लेकर हो रही वास्‍तविक निगरानी और विदेश से आए कुल यात्रियों में बड़ा अंतरः कैबिनेट सचिव
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

कोरोनावायरस का संक्रमण देश और दुनिया में लगातार बढ़ रहा है। इसकी जांच को लेकर विशेषज्ञों ने सवाल उठाए हैं। इस बीच, केंद्र सरकार के कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि पिछले दो महीने में 15 लाख यात्री विदेशों से भारत आए, लेकिन इन सभी की कोविड-19 की जांच नहीं हुई है। जांच हुए लोगों की रिपोर्ट और कुल यात्रियों की संख्या में भारी अंतर है। उन्होंने इस पर चिंता जताते हुए केंद्र शासित प्रदेश और राज्य सरकारों को कहा है कि एक बार फिर से सभी की पहचान कर जांच कराई जाए। अन्यथा यह अंतराल कोरोना वायरस के खिलाफ जंग की मुहिम के लिए गंभीर खतरा पैदा कर सकता है।

कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रमुख सचिव को पत्र भेजकर कहा है कि पिछले दो महीने में 15 लाख यात्री विदेशों से भारत आए, लेकिन इन सभी की कोविड-19 की जांच नहीं हुई है। जांच हुए लोगों की रिपोर्ट और कुल यात्रियों की संख्या में बड़ा अंतर दिख रहा है। उन्होंने कहा कि सभी यात्रियों की निगरानी में अंतर कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने की सरकार की कोशिशों को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकती है क्योंकि अन्य देशों से लौटने वाले लोगों में से कई कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं।

फिर से पहचान कर कराई जाए जांच

उन्होंने कहा कि ब्यूरो ऑफ इमीग्रेशन ने 18 जनवरी 2020 से 23 मार्च तक की रिपोर्ट राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से एकत्र किए हैं, जिसमें विदेशों से आए लोगों की कोविड-19 की जांच का ब्यौरा है। इस रिपोर्ट और भारत आए कुल यात्रियों की संख्या में अंतर है। उन्होंने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों से कहा है कि एक बार फिर से विदेशों से आए यात्रियों की पहचान की जाए और उनकी जांच की जाए। सभी यात्रियों को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार निगरानी में रखा जाए। इस काम में जिला स्तर के अफसरों की भी मदद लेने को कहा गया है।

बता दें कि सरकार ने कोरोनोवायरस प्रकोप के मद्देनजर पिछले दो महीनों में भारत आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की निगरानी शुरू कर दी थी। हवाई अड्डों पर विदेश से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग 18 जनवरी से चरणबद्ध तरीके से की गई थी।

देश में अब तक हो चुकी है 17 की मौत

देश और दुनिया में कोरोना का प्रको, लगातार बढ़ रहा है। इस समय कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 724 तक पहुंच चुकी है और संक्रमण से 17 लोगों की मौत भी हो चुकी है। भारत में जितने भी संक्रमण के मामले हैं उनका विदेश यात्रा का इतिहास रहा है या फिर विदेश यात्रा से लौटे लोगों के संपर्क में आए हुए लोग हैं। पिछले 24 घंटे के दौरान भारत में कोरोना संक्रमण के 75 नए मामले सामने आए हैं और 4 लोगों की जान गई है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से