Home » देश » सामान्य » सीबीआई विवादः सीवीसी से मिले आलोक वर्मा, भ्रष्टाचार के आरोपों से किया इनकार

सीबीआई विवादः सीवीसी से मिले आलोक वर्मा, भ्रष्टाचार के आरोपों से किया इनकार

NOV 08 , 2018

सीबीआई के डायरेक्टर आलोक वर्मा ने केन्द्रीय सतर्कता आयुक्त के वी चौधरी से मुलाकात की। माना जा रहा है कि उन्होंने स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना द्वारा उन पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों से इनकार किया है। 

सीवीसी अधिकारियों के मुताबिक, आलोक वर्मा दोपहर एक बजे केन्द्रीय सतर्कता आयोग के दफ्तर पहुंचे और उन्होंने सीवीसी चौधरी और सतर्कता आयुक्त शरद कुमार से मुलाकात की। सीबीआई डायरेक्टर करीब एक घंटे वहां रहे।

सुप्रीम कोर्ट ने 26 अक्तूबर को केन्द्रीय सतर्कता आयोग से अस्थाना द्वारा वर्मा पर लगाए गए आरोपों की जांच दो सप्ताह के भीतर करने को कहा था। वर्मा और अस्थाना को केन्द्र सरकार ने छुट्टी पर भेजा हुआ है।

जांच में जरूरी था वही कियाः आलोक वर्मा

अधिकारियों ने कहा कि राकेश अस्थाना ने भी चौधरी और शरद कुमार से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि आयोग ने हाल में महत्वपूर्ण मामलों की जांच कर रहे सीबीआई के कुछ अधिकारियों से पूछताछ की थी। इन अधिकारियों के नाम सीबीआई प्रमुख आलोक वर्मा के खिलाफ भ्रष्टचार की अस्थाना की शिकायत में सामने आए थे। निरीक्षक से पुलिस अधीक्षक रैंक के सीबीआई अधिकारियों को बुलाया गया और एक वरिष्ठ सीवीसी अधिकारी के सामने उनका बयान दर्ज किया गया।

इससे पहले सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा ने मंगलवार को उन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों का खारिज करते हुए कहा कि उन्होंने ईमानदारी से जांच कार्यों में हिस्सा लिया है। उन्होंने कहा कि मैने वहीं किया है जो जांच के लिए जरूरी था।

सुप्रीम कोर्ट ने  सीवीसी को जांच का दिया है निर्देश

सुप्रीम कोर्ट ने निर्देश दिया था कि वर्मा के खिलाफ आरोपों की सीवीसी की जांच की निगरानी शीर्ष कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस ए के पटनायक करेंगे। वर्मा ने उन्हें ड्यूटी से हटाने और छुट्टी पर भेजने के सरकार के फैसले को चुनौती दी थी। वर्मा और अस्थाना के बीच गतिरोध अस्थाना तथा अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने को लेकर हाल में बढ़ गया था। प्राथमिकी में पुलिस उपाधीक्षक देवेंद्र कुमार का भी नाम दर्ज था जिसमें कथित रिश्वत मामले में सीबीआई हिरासत में हैं।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.