Home देश सामान्य अगले 10 दिनों में चलेंगी 2600 स्पेशल ट्रेनें, 36 लाख यात्री कर सकेंगे सफरः रेल मंत्रालय

अगले 10 दिनों में चलेंगी 2600 स्पेशल ट्रेनें, 36 लाख यात्री कर सकेंगे सफरः रेल मंत्रालय

आउटलुक टीम - MAY 23 , 2020
अगले 10 दिनों में चलेंगी 2600 स्पेशल ट्रेनें, 36 लाख यात्री कर सकेंगे सफरः रेल मंत्रालय
अगले 10 दिनों में चलेंगी 2600 स्पेशल ट्रेनें, 80 फीसदी गईं यूपी और बिहारः रेल मंत्रालय
File Photo
आउटलुक टीम

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने शनिवार को कहा कि रेलवे ने राज्य सरकारों से मिलकर आगामी दस दिनों के लिए शेड्यूल बनाया है जिसके तहत 2600 ट्रेनें चलाई जाएंगी। इसमें 36 लाख यात्री सफर कर पाएंगे। उन्होंने बताया कि 80 फीसदी स्पेशल ट्रेन यूपी और बिहार गईं।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में रेलवे बोर्ड अध्यक्ष ने कहा कि 1 मई को मजदूर दिवस के अवसर पर श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाना शुरू कर दी हैं। 20 मई को सबसे ज्यादा 279 ट्रेनें चलाईं। उस दिन करीब 4 लाख प्रवासी मजदूरों ने सफर किया। प्रवासी श्रमिकों के लिए जो ट्रेनें चलाई जा रही हैं वे राज्य सरकार के समन्वय के साथ चलाई जा रही हैं। उन्होंने बताया कि 2600 से अधिक श्रमिक ट्रेंने चल चुकी हैं और 35 लाख से अधिक प्रवासी को उनके राज्यों तक पहुंचाया जा चुका है। जब तक हरेक प्रवासी श्रमिक को उनके गंतव्य तक नहीं पहुंचा लेते तब तक श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी अगर जरूरत पड़ी तो 10 दिन के बाद भी ट्रेनें शेड्यूल की जाएंगी। स्पेशल ट्रेनों को चलाने की लागत का 85  प्रतिशत केंद्र सरकार वहन कर रह रही है और 15 प्रतिशत राज्य सरकारें किराए के रूप में वहन कर रही हैं।

टिकट काउंटर खोलने का लिया फैसला

उन्होंने बताया कि आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने के लिए जून से 200 और स्पेशल ट्रेनें चलाने का फैसला किया गया है। शिकायत थी कि श्रमिक भाई बुकिंग नहीं कर पा रहे हैं इसलिए टिकट काउंटर खोलने का भी फैसला किया गया। एक हजार टिकट बुकिंग काउंटर्स खुल चुके हैं और धीरे-धीरे सभी टिकट खिड़कियां खुल जाएंगी। साथ ही, रेलवे एजेंट, पोस्ट ऑफिस, कॉमन सर्विस सेंटर्स आदि को भी टिकट उपलब्ध कराने की अनुमती दी है। बुकिंग मॉनिटर की जा रही है और अब तक केवल 30 फीसदी बुकिंग हुई है।

रेलवे के 17 अस्पताल कोविड डेडीकेटेड

बोर्ड अध्यक्ष ने कहा कि रेलवे के 17 अस्पतालों को कोविड अस्पताल में तब्दील किया गया  है। इनमें 5 हजार बेड्स हैं। 33 अस्पतालों में कुछ ब्लॉक्स कोविड मरीजों के इलाज के लिए अलग किए गए हैं। कोविड केयर सेंटर के लिए 5 हजार कोच तैयार किए गए हैं। इसमें लगभग 80 हजार बेड हैं। अभी 50 प्रतिशत ये कोच श्रमिक स्पेशल में इस्तेमाल हो रहे हैं।

गृह मंत्रालय ने बताया, अब तक 35 लाख से ज्यादा श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का इस्तेमाल कर चुके हैं। बसों से 40 लाख से ज्यादा लोग यात्रा कर चुके हैं। 2 जून से रेलवे और भी स्पेशल ट्रेन चलाएगा जिसके लिए 14 लाख बुकिंग हो चुकी हैं।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से