film Kaala release Fans offer milk to actor Rajnikanth's poster : Outlook Hindi
Home » सिनेमा » क्षेत्रीय » फिल्म ‘काला’ रिलीज, उमड़ी भीड़, फैंस ने दूध से नहलाया रजनीकांत का पोस्टर

फिल्म ‘काला’ रिलीज, उमड़ी भीड़, फैंस ने दूध से नहलाया रजनीकांत का पोस्टर

JUN 07 , 2018

रजनीकांत की फिल्म काला गुरुवार को सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। देशभर में रजनीकांत के फैंस जश्न मना रहे हैं। चेन्नई में फिल्म का पहला शो सुबह 4 बजे रखा गया। थियेटर के बाहर फैंस की लंबी कतारें देखने को मिल रही हैं।

रजनीकांत की दीवानगी इस कदर है कि तमिलनाडु में फैंस ने रजनीकांत के पोस्टर को दूध से नहलाया। साथ ही सड़कों पर आतिशबाजी की।

बता दें कि केएस राजशेखरन ने फिल्म काला पर रोक लगाने के लिए याचिका दायर की थी जिस पर कोर्ट ने सुनवाई करने से इनकार कर दिया। याचिकाकर्ता ने फिल्म काला के मेकर्स पर गानों और फिल्म के कुछ सीन्स में उनके काम का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था। कोर्ट ने याचिकाकर्ता की ओर से पेश हुए वकील से कहा कि आप फिल्म की रिलीज पर रोक लगाना चाहते हैं जबकि हर कोई फिल्म का इंतजार कर रहा है।

इसके अलावा कावेरी मुद्दे पर रजनीकांत की टिप्पणी से नाराज होकर केएफसीसी ने 'काला' को प्रदर्शित करने की अनुमति ना देने का 29 मई को फैसला किया था। रजनीकांत ने कहा था कि कर्नाटक में जो भी सरकार सत्ता में आए वह कावेरी जल बंटवारे पर उच्चतम न्यायालय के आदेश का पालन करें।

इसके बाद रजनीकांत ने अपनी फिल्म 'काला' को सुचारू रूप से रिलीज होने के लिए पड़ोसी राज्य कर्नाटक के लोगों से मदद मांगी। उन्होंने कहा, "मैंने कोई गलती नहीं की। कृपया उन्हें कुछ ना कहे जो फिल्म देखना चाहते हैं। मैं आपसे सहयोग का आग्रह करता हूं।" अभिनेता ने उम्मीद जताई कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी कर्नाटक उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार उनकी फिल्म की रिलीज सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे। उन्होंने कहा, "फिल्म की रिलीज के खिलाफ विरोध कर रहे लोगों से मैं कहना चाहता हूं कि मैंने कर्नाटक से कावेरी प्रबंधन बोर्ड का पालन करने के लिए कहा था। मुझे नहीं पता कि इसमें क्या गलत है। मैंने यह भी कहा था कि बांधों का प्रशासन बोर्ड द्वारा होना चाहिए।"

कर्नाटक उच्च न्यायालय ने भी 'काला' की शांतिपूर्ण रिलीज के लिए आवश्यक सुरक्षा मुहैया कराने का राज्य सरकार को निर्देश दिया था।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.