Home सिनेमा अंतरराष्ट्रीय भारतीय पृष्ठभूमि पर आधारित शॉर्ट फिल्म को ऑस्कर, हापुड़ की है कहानी

भारतीय पृष्ठभूमि पर आधारित शॉर्ट फिल्म को ऑस्कर, हापुड़ की है कहानी

आउटलुक टीम - FEB 25 , 2019
भारतीय पृष्ठभूमि पर आधारित शॉर्ट फिल्म 'पीरियड इंड ऑफ सेंटेंस' को 'बेस्ट डॉक्युमेंट्री शॉर्ट सब्जेक्ट' कैटेगरी में ऑस्कर
भारतीय पृष्ठभूमि पर आधारित 'पीरियड एंड ऑफ सेंटेंस' को 'बेस्ट डॉक्युमेंट्री शॉर्ट सब्जेक्ट' कैटेगरी में ऑस्कर
आउटलुक टीम

महिलाओं के मासिक धर्म को लेकर ग्रामीण भारत की पृष्ठभूमि पर बनी फिल्म ‘पीरियड इंड ऑफ सेंटेंस'  ने इतिहास रच दिया है। 'पीरियड इंड ऑफ सेंटेंस' को 'बेस्ट डॉक्युमेंट्री शॉर्ट सब्जेक्ट' कैटेगरी में ऑस्कर अवॉर्ड मिला है। फिल्म का निर्देशन रायका जेताबची और निर्माण गुनीत मोंगा के सिख्या एंटरटेंनमेंट ने किया है। जबकि इस साल का बेस्ट फिल्म का ऑस्कर अवॉर्ड ‘ग्रीन बुक' को मिला है। वहीं ऑस्कर में 10 कैटेगरी में नामित फिल्म 'रोमा' ने बेस्ट फॉरेन फिल्म का अवॉर्ड अपने नाम किया है। फिल्म को बेस्ट सिनेमाटॉग्राफी का भी अवॉर्ड मिला।

अमेरिका के कैलिफॉर्निया के डॉल्‍बी थिएटर में सिनेमाजगत के सबसे प्रतिष्ठित ऑस्कर अवॉर्ड्स का ऐलान हो रहा है। आइए, जानते हैं किसे कौन-कौन सा अवॉर्ड मिला है ...

बेस्ट फिल्म : ग्रीन बुक

बेस्ट एक्टर इन ए लीडिंग रोल: रामी मालेक

बेस्ट एक्ट्रेस इन ए लीडिंग रोल: ओलिविया कोलमन

बेस्‍ट फॉरेन फिल्‍मः रोमा

बेस्ट डायरेक्टर: अलफॉन्सो क्यूरॉन (रोमा)

बेस्ट सपॉर्टिंग एक्ट्रेसः रेजिना किंग, फिल्मः इफ बील स्ट्रीट कुड टॉक

बेस्ट सपॉर्टिंग एक्टर: मेहरशला अली, फिल्म: ग्रीन बुक

बेस्ट एनिमेटेड फीचर फिल्म: स्पाइडर-मैन: इनटू द स्पाइडर-वर्स

बेस्ट एनिमेटेड शॉर्ट फिल्म: बाओ

बेस्ट डॉक्युमेंट्री शॉर्ट सब्जेक्ट: पीरियड. एंड ऑफ सेंटेंस

बेस्ट विजुअल इफेक्ट: फर्स्ट मैन

बेस्ट लाइव एक्शन शॉर्ट फिल्म : स्किन

बेस्ट ऑरिजनल स्क्रीनप्ले: ग्रीन बुक

बेस्ट अडैप्टेड स्क्रीन प्ले: ब्लैकलैंसमेन

बेस्ट ऑरिजनल स्कोर: ब्लैक पैंथर

बेस्ट ऑरिजनल सॉन्ग: शैलो

कॉस्ट्यूम डिजाइनः रुथ कार्टर

बेस्ट सिनेमाटॉग्राफीः रोमा

बता दें कि फिल्म बाओ ने एनिमल बिहेवियर, लेट ऑफटरनून को पीछे छोड़ते हुए बेस्ट एनिमेटेड शॉर्ट फिल्म कैटेगरी में जीतकर ऑस्कर अवॉर्ड अपने नाम किया। वहीं फिल्म स्पाइडरमैन: इन टु द स्पाइडर-वर्से ने इंक्र‍िडबल 2, आइसले ऑफ डॉग्स को पीछे छोड़ते हुए बेस्ट एनिमेटेड फीचर कैटेगरी में ऑस्कर अवॉर्ड जीता। जबकि फॉरेन फिल्म लैंग्वेज कैटेगरी में मैक्स‍िको की फिल्म रोमा ने जीता ऑस्कर। फिल्म रोमा ने इस साल बेस्ट सिनेमाटोग्राफी अवॉर्ड जीता।

फिल्म ग्रीन बुक में शानदार अभिनय के लिए अमेरिकन एक्टर मेहरशला अली ने जीता बेस्ट सपोर्ट‍िंग एक्टर का ऑस्कर।

10 अलग-अलग कैटेगरी में नॉमिनेट हुई 'रोमा'

इस साल के अकेडमी अवार्ड्स में हॉलीवुड फिल्म रोमा को सबसे ज्यादा 10 अलग-अलग कैटेगरी में नॉमिनेट किया गया। पिछले साल ऑस्कर में द शेप ऑफ वॉटर को सबसे ज्यादा नॉमिनेशन मिले थे। इस फिल्म को ऑस्कर पुरस्कारों के इतिहास में सबसे ज्यादा कैटेगरी में नॉमिनेट होने वाली फिल्मों में गिना जाता है। साल 2018 के अकेडमी अवार्ड्स में इसे 13 अलग-अलग कैटेगरी में नॉमिनेट किया गया था, जिसमें से 4 अवार्ड इस फिल्म ने अपने नाम किए थे।

इस बार शो में नहीं कोई होस्ट

91वें ऑस्कर अवार्ड कई कारणों से खासतौर पर याद किया जाएगा। जैसे- इस बार शो का कोई होस्ट नहीं है। इससे पहले साल 1989 के अकेडमी अवार्ड शो में ऐसा हो चुका है। हालांकि, इस साल शो के होस्ट की जिम्मेदारी एक्टर कमेडियन केविन हार्ट को सौंपी गई थी लेकिन कुछ दिनों पहले उनके पुराने कुछ ट्वीट्स वायरल हुए थे। साल 2009-10 में ट्विटर पर दिए गए उनके ऐंटी-गे स्टेटमेंट्स की वजह से उनसे यह शो छोड़ने के लिए कह दिया गया। शो छोड़ते वक्त हार्ट ने इसके लिए माफी भी मांगी थी।

पीरियड के बारे में

भारतीय समाज में पीरियड यानी माहवारी इस पर बात करना तो दूर लोग कई बार नाम लेने से पहले भी सोचते हैं। इसी मुद्दे पर यह डॉक्यूमेंट्री ‘पीरियड इंड ऑफ सेंटेंस’ बनी है। इसकी कहानी उत्तर प्रदेश के हापुड़ में रहने वाली लड़कियों पर बुनी गई है। 25 मिनट की इस डॉक्यूमेंट्री को बनाने में कैलिफोर्न‍िया के ऑकवुड स्कूल के 12 स्टूडेंट और स्कूल की इंग्ल‍िश टीचर मेलिसा बर्टन का खास योगदान है। फिल्म की एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर गुनीत मोंगा हैं। फिल्म को रायका जेताबची  ने निर्देशित किया है। इसे बनाने के पीछे ए दिलचस्प किस्सा है। ऑकवुड स्कूल स्टूडेंट ने एक लेख से भारत के गांव में पीरियड को लेकर शर्म और हाइजीन की नॉलेज नहीं होने का पता चला। बच्चों ने एनजीओ को कॉन्टैक्ट किया, फंड इकट्ठा किया और गांव की लड़कियों के लिए एक सेनेटरी बनाने वाली मशीन दान की। फिर गांव में जागरूकता लाने के लिए डॉक्यूमेंट्री की शूटिंग की योजना बनी।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से