Home सिनेमा सामान्य नाना पाटेकर के खिलाफ पुलिस को नहीं मिला सबूत, तनुश्री दत्ता ने लगाया था यौन उत्पीड़न का आरोप

नाना पाटेकर के खिलाफ पुलिस को नहीं मिला सबूत, तनुश्री दत्ता ने लगाया था यौन उत्पीड़न का आरोप

आउटलुक टीम - JUN 13 , 2019
नाना पाटेकर के खिलाफ पुलिस को नहीं मिला सबूत, तनुश्री दत्ता ने लगाया था यौन उत्पीड़न का आरोप
तनुश्री दत्ता ने लगाया था यौन उत्पीड़न का आरोप, पुलिस को नहीं मिला नाना पाटेकर के खिलाफ सबूत
File Photo
आउटलुक टीम

बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने भारत में #MeToo आंदोलन की शुरुआत करते हुए अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। अब नाना पाटेकर के खिलाफ मुंबई पुलिस को कोई सबूत नहीं मिला है। मुंबई पुलिस ने मामले में ‘बी समरी’ रिपोर्ट दाखिल की है। बी समरी रिपोर्ट तब दाखिल की जाती है जब पुलिस को मामले में कोई सबूत नहीं मिलता और वह आगे जांच करने में असमर्थ होती है। यानी पुलिस की तरफ से एक तरह से केस क्लोज हो जाता है। इसके बाद नाना पाटेकर को बड़ी राहत मिलती दिखाई दे रही है। हालांकि तनुश्री के वकील का कहना है कि वह हार नहीं मानेंगे और न्यास के लिए आगे अपील करेंगे।

इस पर तनुश्री दत्ता ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि एक भ्रष्ट पुलिस और लीगल सिस्टम एक ज्यादा भ्रष्ट आदमी नाना को क्लीन चिट दे रहे हैं, जो पहले भी कई महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार करने और उत्पीड़न करने का आरोपी रहा है।

नाना पाटेकर के वकील अनिकेत निकम ने कहा, सारे आरोप गलत थे। मेरे क्लाइंट निर्दोष हैं और न्याय होगा।

तनुश्री ने बताया था 2008 का मामला

तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। जिसमें उन्‍होंने बताया कि किस तरह से नाना ने 2008 की फिल्म हॉर्न ओके प्लीज के सेट पर उनसे छेड़छाड़ की थी। इस मामले में पुलिस ने नाना पाटेकर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली थी। लेकिन पुलिस के मुताबिक, पिछले महीनों के दौरान ऐसा एक भी स्‍टेटमेंट नहीं मिला जो उत्पीड़न की बात को साबित कर सके।

गवाहों से नहीं हुई पुष्टि

इसी रिपोर्ट में पुलिस के मुताबिक कोई भी गवाह तनुश्री के लगाए गए आरोपों की पुष्टि नहीं कर सका। पुलिस ने गवाहों के 12 से 15 बयान दर्ज किए थे जो फिल्‍म के सेट पर मौजूद थे। लेकिन अब तक किसी का भी बयान तनुश्री के आरोपों से मेल नहीं खाता है।

नाना को क्लीन चिट की बात से तनुश्री ने किया था इनकार

कुछ समय पहले ही तनुश्री ने उन मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज किया है, जिसमें दावा किया जा रहा था कि नाना पाटेकर को मुंबई पुलिस ने क्लीन चिट दे दी है। तनुश्री ने कहा था, 'मीडिया में ये झूठी अफवाह फैलाई जा रही है कि पुलिस ने नाना पाटेकर को यौन उत्पीड़न के मामले में क्लीन चिट दे दी है। मैं ये साफ कर दूं कि मुंबई पुलिस ने ऐसा कुछ ही नहीं किया है। मेरे वकील नितिन सतपुते ने इसे कन्फर्म किया है। इन अफवाहों को नाना पाटेकर की टीम फैला रही है। नाना पाटेकर को इंडस्ट्री में काम नहीं मिल रहा है। ऐसे में वह पब्लिक में अपनी छवि सुधारने के लिए ऐसा कर रहे हैं।' 

(एजेंसी इनपुट्स के साथ)

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से