Home सिनेमा सामान्य वेंटिलेटर पर हैं निशिकांत कामत, सोशल मीडिया पर फैली मौत की अफवाह

वेंटिलेटर पर हैं निशिकांत कामत, सोशल मीडिया पर फैली मौत की अफवाह

आउटलुक टीम - AUG 17 , 2020
वेंटिलेटर पर हैं निशिकांत कामत, सोशल मीडिया पर फैली मौत की अफवाह
वेंटिलेटर पर हैं निशिकांत कामत, सोशल मीडिया पर फैली मौत की अफवाह
आउटलुक टीम

बॉलीवुड फिल्ममेकर निशिकांत कामत हैदराबाद के एक अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं। उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। अस्पताल के सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है। 50 साल के निशिकांत कामत पिछले काफी समय से लीवर डिसीज से जूझ रहे हैं। फिल्म मेकर मिलाप जावेरी ने बताया है कि अभी निशिकांत लाइव सपोर्ट सिस्टम पर हैं और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

लीवर की पुरानी बीमारी और अन्य संक्रमण से जूझ रहे कामत को 31 जुलाई को हैदराबाद के एआईजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहीं, इस बीच कामत की मौत की खबरों को खारिज करते हुए उनके मित्र और निर्देशक मिलाप जावेरी ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को बताया, "वह मरा नहीं है। वह वेंटिलेटर पर है। लेकिन उसकी हालत बहुत गंभीर बनी हुई है।"

कामत के निधन की खबर को अभिनेता रितेश देशमुख ने भी ट्विटर पर फर्जी बताया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'निशिकांत कामत वेंटिलेटर पर हैं और अभी भी जिंदा हैं। उनके लिए प्रार्थना करनी चाहिए।

इससे पहले, कामत के करीबी दोस्त मराठी अभिनेता जयवंत वाडकर ने कहा था कि निर्देशक का निधन हो गया है। इसके बाद, उनके कई सहयोगियों, जिनमें अभिनेता आर माधवन, जिन्होंने उनके साथ "मुंबई मेरी जान" (2008) में काम किया, ने अपनी संवेदना व्यक्त करना शुरू कर दिया था।

अस्पताल की ओर से 12 अगस्त को जारी किए एक बयान में कहा गया था कि कामत को पीलिया और पेट की गड़बड़ी के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया था और जांच में लीवर संबंधी बीमारी का पता चला। इस बयान में अस्पताल ने उनकी स्थिति को "गंभीर लेकिन स्थिर" बताया था।

बता दें कि निशिकांत कामत बॉलीवुड में 'दृश्यम', 'मदारी', 'मुंबई मेरी जान', 'फोर्स' और 'रॉकी हैंडसम' जैसी फिल्मों का डायरेक्शन कर चुके हैं। इससे पहले निशिकांत को 31 जुलाई 2020 को पीलिया और पेट फूलने की समस्या के बाद हैदराबाद के अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां पता चला कि वह लीवर सोरायसिस और सेकंडरी इन्फेक्शन से जूझ रहे हैं।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से