Home » सिनेमा » बॉलीवुड » वायरल वीडियो में ईस्ट या वेस्ट नहीं साउथ है बेस्ट

वायरल वीडियो में ईस्ट या वेस्ट नहीं साउथ है बेस्ट

FEB 13 , 2018

दो दिन से मलयाली फिल्म की अभिनेत्री प्रिया प्रकाश के वीडियो की दीवानगी सिर चढ़ कर बोल रही है। वेलेंटाइन वीक में इस वीडियो ने भले ही थोड़ी देर के लिए ही सही टॉप ट्रेंड में अपनी जगह बना ली थी। यह अलग बात है कि इस वीडियो को आए 24 घंटे भी नहीं हुए कि ‘मीम वीरों’ ने इसके भी मीम बना दिए।

वायरल होने की परिभाषा इन दिनों बदल गई है। अब तक तो वायरल बुखार ही होता था लेकिन अब यह पुरानी बात हो गई है। उस वायरल को कोई भले ही पसंद न करता हो लेकिन इस नए वायरल से सभी प्यार करते हैं और चाहते हैं कि जिंदगी में एक न एक बार इस वायरल के कीड़े ने काटना ही चाहिए।

दूसरे देशों के मुकाबले भारत में पॉलीटिकल वीडियो मीम ही ज्यादा पापुलर होते हैं। राहुल गांधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मीम जमात के पसंदीदा कैरेक्टर हैं। चुनावी रैली या किसी सार्वजनिक कार्यक्रमों में इनकी हर हरकत पर नजर होती है और फिर ये दोनों सोशल मीडिया पर छा जाते हैं।

लेकिन उत्तर भारत के मुकाबले दक्षिण भारत में गाने, फिल्म कोई डांस ज्यादा वायरल होता है। जैसे अब कोलावरी डी को ही लीजिए। वायरल होने वाले इस वीडियो में धनुष की आवाज, गाने की धुन और शब्दों ने कमाल कर दिया था। इस गाने ने धनुष को अचानक पूरे भारत में हस्ती बना दिया था। कोलावरी डी इतना हिट था कि इस पर बने स्पूफ भी उतने ही सराहे गए।

पूरे भारत में वायरल हुए दूसरे वीडियो में झिमकी कमल पर एक डांस था जिसे लाखों की संख्या में लोगों ने देखा और कई शहरों में इसके समर्थन में सड़कों पर लोगों ने डांस किया। झिमकी कमल भी एक मलयालम फिल्म का गाना था जिस पर एक प्राइवेट इंस्टीट्यूट की कॉमर्स पढ़ाने वाली टीचर ने ग्रुप डांस किया था। बाद में कोट्टायम में कुछ मुस्लिम लड़कियों ने बुर्का पहन कर इस गाने पर सड़क पर डांस किया और कई लोगों की आंख की किरकिरी बन गईं।

और अब प्रिया प्रकाश हैं, जो खुद भी मलयाली ही हैं। प्रिया के भौंहे नचाने वाला वीडियो वाइरल होने से लग रहा है दक्षिण भारत को वीडियोज वाइरल करना आते हैं। या फिर उनका कंटेंट ऐसा रहता है जिस पर दूसरी जगह काम नहीं हो रहा है। गाने और डांस के ऐसे वीडियो वाइरल कर के साउथ बता देता है कि राजनीति से भी आगे जहां और भी है।    


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.