Home सिनेमा बॉलीवुड 47 साल पहले रिलीज हुई थी 'जंजीर', बिग बी ने फिल्म का पोस्टर किया ट्वीट

47 साल पहले रिलीज हुई थी 'जंजीर', बिग बी ने फिल्म का पोस्टर किया ट्वीट

आउटलुक टीम - MAY 11 , 2020
47 साल पहले रिलीज हुई थी 'जंजीर', बिग बी ने फिल्म का पोस्टर किया ट्वीट
बिग बी ने अपनी सुपरहिट फिल्म जंजीर के 47 साल पूरे होने पर फिल्म का पोस्टर किया ट्वीट, लॉकडाउन का भी किया जिक्र
FILE PHOTO
आउटलुक टीम

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन की सुपरहिट फिल्म 'जंजीर' के प्रदर्शन के 47 साल पूरे हो गए हैं। प्रकाश मेहरा के निर्देशन में बनी फिल्म 'जंजीर' अमिताभ बच्चन के करिअर की पहली सुपरहिट फिल्म मानी जाती है। इस फिल्म ने अमिताभ को एंग्री यंग मैन के रूप में पहचान दिलाई और फिर वे एक-एक कर सफलता की सीढ़ियां चढ़ते गए। फिल्म के 47 साल पूरे होने की खुशी में अमिताभ ने फिल्म से जुड़ा एक पोस्टर शेयर किया है।

जंजीर 11 मई 1973 को रिलीज हुई थी। इसमें अमिताभ बच्चन ने पुलिस अधिकारी विजय का किरदार निभाया था। आपको बता दें इससे पहले अमिताभ की कई फिल्में लगातार फ्लॉप हो रही थी। लेकिन इस फिल्म ने बिग बी के करियर को एक नई दिशा देने का काम किया। प्रकाश मेहरा की एक्शन फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त कमाई की।

एंग्री मैन की छवि वाला पोस्टर किया साझा

पोस्टर में एंग्री मैन वाली छवि लिए अमिताभ बच्चन नजर आ रहे हैं। साथ ही फिल्म में शेरखान का रोल प्ले करने वाले प्राण भी दिखाई दे रहे हैं। फिल्म का पोस्टर शेयर कर अमिताभ ने लिखा, “जंजीर के 47 साल। गौरतलब है कि वर्ष 1973 में प्रदर्शित जंजीर में अमिताभ बच्चन के अलावा जया बच्चन ,प्राण, अजीत की अहम भूमिकाएं थी।”

मानवता में परिवर्तन और समायोजन की क्षमता

अपनी सुपरहिट फिल्म के अलावा अमिताभ बच्चन ने फिलहाल चल रहे लॉकडाउन के बारे में भी अपने ब्लॉग में लिखा। अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग में कहा की कोरोनावायरस महामारी के चलते हम सब बिना किसी दिनचर्या के साथ रह रहे हैं जो हमने कभी सोचा नहीं था लेकिन आज के समय की यही वास्तविकता है। हालांकि काफी लोग ऐसे भी हैं जो घर पर नहीं रहे जिनको काम पर जाना जरूरी था भले ही वह निर्धारित समय के लिए क्यों ना हो लेकिन इस परिवर्तन में समायोजन देखना उल्लेखनीय है। बिग बी ने कहा कि मानवता में परिवर्तन और समायोजन की क्षमता है।

प्रकृति ले रही है मानवता का प्रशिक्षण

उन्होंने कहा कि मानवता की यही महिमा है और जब भी हम इस परिवर्तित अस्तित्व से बाहर निकलेंगे तो यह भविष्य में इस तरह की समस्याओं से निपटने के लिए नए तरीके नए विचार और नई सोच प्रस्तुत करेगे। आगे उन्होंने कहा कि एक समस्या मानवता के साथ यह भी है कि जब हम एक चीज के आदी हो जाते हैं तो प्रकृति फिर से हमारा प्रशिक्षण करने का फैसला करती है और कुछ और नई चुनौतियां हमारे सामने पेश करती है ताकि हम फिर से शुरुआत कर सके।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से