Home अर्थ जगत जमा पूंजी पर्सनल लोन अब ऐप पर, 20 मिनट में खाते में आएगा पैसा

पर्सनल लोन अब ऐप पर, 20 मिनट में खाते में आएगा पैसा

आउटलुक टीम - AUG 08 , 2020
पर्सनल लोन अब ऐप पर, 20 मिनट में खाते में आएगा पैसा
प्रतीकात्मक तस्वीर
आउटलुक टीम

डिजिटल दुनिया ने लोन लेने के तरीके को भी बदल दिया है। कंपनियों ने ग्राहकों की अब छोटी-छोटी जरूरतों को पूरा करने के लिए सैशे, छोटा रिचार्ज की तरह लोन देने का मॉडल अपना लिया है। यानी आपको अब 1500-2000 रुपये का लोन मिल जाएगा। वो भी 15, 20 दिन के लिए। यह सारा काम आपके मोबाइल पर हो जाएगा, न किसी से मिलना और न किसी ऑफिस का चक्कर लगाना, सब कुछ डिजिटल।

पीसी फाइनेंशियल सर्विसेज के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर (सीएफओ) रघुवीर गखड़ ने बताया हमारी कंपनी कैशबीन ब्रांड के तहत ग्राहकों को पर्सनल लोन की सुविधा दे रही है। इसके तहत 1500 से 60 हजार रुपये का लोन मिनटों में मिल जाता है। जिस पर उसे 33 फीसदी का सालाना ब्याज चुकाना होता है। खास बात यह है कि लोन हम 15 दिन से लेकर 62 दिनों तक के लिए देते हैं। यानी ग्राहक अपनी छोटी-छोटी जरूरतों को बेहद आसानी से पूरी कर सकते हैं।अगर कोई ग्राहक लोन लेना चाहता है तो वह कंपनी से कैसे संपर्क करेगा, इस पर रघुवीर कहते हैं, उसे कैशबीन ऐप को डाउनलोड करना है। उसके बाद वह लोन के लिए आवेदन कर सकता है।

15-20 मिनट में मिल जाएगा

रघुवीर के अनुसार जब भी कोई ग्राहक लोन के लिए आवेदन करता है, तो हम मोबाइल फोन पर ही उसकी केवाईसी (नो योर कस्टमर) कर देते हैं। इसके लिए पैन, आधार डिटेल आदि ली जाती है। उसके बाद ग्राहक का सिबिल स्कोर चेक किया जाता है। इन प्रक्रियाओं के बाद हम लोन की राशि 15-20 मिनट में ग्राहक के बैंक खाते में ऑनलाइन जमा कर देते हैं। लोन के लिए कंपनी 8-9फीसदी प्रोसेसिंग फीस लेती है। ब्याज दर और प्रोसेसिंग फीस ज्यादा होने के सवाल पर रघुवीर कहते हैं देखिए एक तो हम ऐसे ग्राहकों को भी लोन देते हैं, जिन्हें दूसरे चैनल से लोन आसानी से नहीं मिल पाता है, ऐसे ग्राहकों पर जोखिम भी रहता है। जहां तक प्रोसेसिंग फीस की बात है तो सारा प्रोसेस डिजिटल है, ऐसे में आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर आदि पर काफी खर्च आता है। एक बात और समझनी चाहिए कि लोन की अवधि 15-62 दिनों की ही है, ऐसे में अगर कोई व्यक्ति 15 दिन में लोन चुकाता है तो प्रभावी ब्याज दर एक से 1.5 फीसदी ही आती है। इसके साथ ही जो नियमित ग्राहक बन जाते हैं, जिनका लोन चुकाने का रिकॉर्ड अच्छा होते हैं, उन्हें हम प्रोसेसिंग फीस में छूट भी देते हैं।

 

18-40 उम्र के ज्यादा ग्राहक

रघुवीर के अनुसार कैशबीन को करीब 2 करोड़ ग्राहकों ने डाउनलोड किया है। जिसमें से एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने हमारी सुविधा का लाभ उठाया है। ज्यादातर ग्राहक 18-40 उम्र के है। इसमें छात्रों की संख्या बेहद ज्यादा है। इसके अलावा वेतन भोगी लोग है। वेतन भोगी लोगों में बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें एडवांस में वेतन की जरूरत होती है। ऐसे लोगों के लिए हमारी सुविधा काफी फायदेमंद होती है। इसी तरह छात्र अब सब कुछ डिजिटल चाहते हैं, उन्हें ऐप पर अगर छोटी-छोटी जरूरतों के लिए पैसे मिल जाए, तो इससे अच्छा क्या है ? कंपनी की पहुंच पूरे देश में हो चुकी है लेकिन सबसे ज्यादा ग्राहक उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात में है। कंपनी ने इसके अलावा नैनो पे प्रोडक्ट लांच किया है। जिसमें ग्राहक को हम क्रेडिट कार्ड की तरह 30 दिन की ब्याज मुक्त पेमेंट सुविधा देते हैं। इसके बाद ग्राहकों को ब्याज के साथ राशि चुकानी पड़ती है। जहां तक गैर निष्पादित संपत्तियों (एनपीए) की बात है तो वह अभी 0.3 फीसदी है। अभी कंपनी गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनी की कैटेगरी में नॉन डिपॉजिट (एसआई) कंपनी के तरह काम कर रही है। कंपनी में अभी तक 175 करोड़ रुपये का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) आ चुका है। साथ ही उस पर करीब 350 करोड़ रुपये का लोन भी लिया है।  पीसी फाइनेंशियल सर्विसेज नैसडैक स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड ओपेरा लिमिटेड की 100 फीसदी अनुषंगी कंपनी है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से