Home » अर्थ जगत » नीतियां » कैशलेस मुहिम को झटका, डेबिट-क्रेडिट कार्ड से नहीं भरवा पाएंगे पेट्रोल पंप

कैशलेस मुहिम को झटका, डेबिट-क्रेडिट कार्ड से नहीं भरवा पाएंगे पेट्रोल पंप

JAN 08 , 2017

दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि बैंकों ने पेट्रोल पंप मालिकों से ट्रांजेक्शन फीस वसूलने का फरमान सुनाया है, इस फैसले के विरोध में पेट्रोल पंप एसोसिएशन ने कहा है कि वो सोमवार से कार्ड पेमेंट को मंजूर नहीं करेंगे। एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय बंसल ने एक प्रेस रिलीज जारी कर जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि बैंकों ने पेट्रोलियम डीलर्स को सूचित किया है कि वे 9 जनवरी से क्रेडिट कार्ड से होने वाले लेनदेन पर 1 फीसदी और डेबिट कार्ड से होने वाले लेनदेन पर 0.25 फीसदी से 1 फीसदी के बीच शुल्‍क वसूलेंगे।

पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन की माने तो ज्यादातर पेट्रोल पंप एचडीएफसी बैंक की  मशीन का इस्तेमाल कर रहे हैं। पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन का ये फैसला ऐसे समय पर आया है जब सरकार ने पिछले महीने ही कार्ड से पेट्रोल-डीजल की खरीदारी पर 0.75% छूट देने की घोषणा कर रखी है।

ऑल इंडिया पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजय बंसल ने बताया कि एक फीसदी एमडीआर कटने के चलते यह निर्णय लिया गया है कि 9 जनवरी से देश के सभी ऑयल मार्केटिंग कंपनियों 53,840 रिटेल आउटलेट्स पर क्रेडिट और डेबिट कार्ड के जरिए पेमेंट स्वीकार नहीं किए जाएंगे।

Advertisement

एसोसिएशन का कहना है कि कुल मार्जिन 2.5 फीसदी है. इसमें उन्‍हें स्‍टाफ कॉस्‍ट और अन्‍य मैंटेनेंस से जुड़े खर्च करने होते हैं। ऐसे में इतने कम मार्जिन में बैंक को शुल्‍क देना रिटेल आउटलेट्स के लिए संभव नहीं है। दूसरे कारोबारियों की तरह पेट्रोलियम डीलर्स अपने उत्‍पादों की कीमत भी नहीं बढ़ा सकते हैं। ऐसी स्‍थिति में पेट्रोलियम डीलर्स अपने मार्जिन का एक फीसदी हिस्‍सा बैंकों को देने की स्थिति में नहीं हैं।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.