Advertisement
Home अर्थ जगत सामान्य रिकॉर्ड ऊंचाई पर महंगाई, मई में 15.08 फीसदी से बढ़कर 15.88 फीसदी पर पहुंची थोक महंगाई दर

रिकॉर्ड ऊंचाई पर महंगाई, मई में 15.08 फीसदी से बढ़कर 15.88 फीसदी पर पहुंची थोक महंगाई दर

आउटलुक टीम - JUN 14 , 2022
रिकॉर्ड ऊंचाई पर महंगाई, मई में 15.08 फीसदी से बढ़कर 15.88 फीसदी पर पहुंची थोक महंगाई दर
मई में रिकॉर्ड ऊंचाई पर थोक महंगाई दर
ट्विटर
आउटलुक टीम

देश में महंगाई दर आए दिन आसमान छू रही है और आज आए थोक महंगाई दर के आंकड़े इस बात के गवाह हैं। मई के महीने में थोक महंगाई दर 15.88 फीसदी पर जा पहुंची है। अप्रैल महीने में थोक महंगाई दर 15.08 फीसदी रही थी। बता दें कि अप्रैल में ही थोक महंगाई दर 15 फीसदी के ऊपर जाकर 9 साल के उच्चतम स्तर पर आ गई थी। मई की थोक महंगाई दर साल 2012 के बाद से इसका उच्चतम स्तर है जो मौजूदा सीरीज के हिसाब से माना गया है।

पिछले महीने मई में थोक भाव पर आधारित महंगाई दर रिकॉर्ड लेवल पर पहुंच गई। सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले महीने डब्ल्यूपीआई इंफ्लेशन 15.88 फीसदी पर था जो मौजूदा सीरीज में अब तक सबसे अधिक दर है।

थोक महंगाई दर में ये इजाफा मुख्य रूप से खाने-पीने की वस्तुओं के दाम बढ़ने की वजह से आई है। मई में खाद्य महंगाई दर बढ़कर 10.89 फीसदी पर आ गई है जो इससे पिछले महीने यानी अप्रैल में 8.88 फीसदी पर आई थी। मुख्य रूप से टमाटर और नींबू जैसे सब्जियों के दाम बढ़ने के खबरें सुर्खियों में थीं और निश्चित तौर से इसका असर खाद्य महंगाई दर पर आया है।

थोक महंगाई दर के आंकड़ों में आई ये बढ़ोतरी ईंधन और बिजली की थोक महंगाई दर बढ़ने के कारण भी देखी गई है जो 40 फीसदी से पार चली गई है. फ्यूल एंड पावर की थोक महंगाई दर 40.62 फीसदी पर जा पहुंची है जो अप्रैल में 38.66 फीसदी पर रही थी.

गौरतलब है कि थोक मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई दर के इस साल के आंकड़े देखें तो ये अप्रैल में 15.08 फीसदी पर थी, मार्च में 14.55 फीसदी पर थी, फरवरी में 13.11 फीसदी पर थी और जनवरी 2022 में 12.96 फीसदी पर रही थी। इस तरह लगातार थोक महंगाई दर में बढ़ोतरी ही दर्ज की जा रही है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से

Advertisement
Advertisement