Advertisement
Home अर्थ जगत सामान्य महंगाई का झटका: कल से महंगा मिलेगा दूध, अमूल के बाद मदर डेयरी ने भी बढ़ाए दाम

महंगाई का झटका: कल से महंगा मिलेगा दूध, अमूल के बाद मदर डेयरी ने भी बढ़ाए दाम

आउटलुक टीम - AUG 16 , 2022
महंगाई का झटका: कल से महंगा मिलेगा दूध, अमूल के बाद मदर डेयरी ने भी बढ़ाए दाम
महंगाई का झटका: कल से महंगा मिलेगा दूध, अमूल के बाद मदर डेयरी ने भी बढ़ाए दाम
आउटलुक टीम

देश में आए दिन महंगाई की मार जनता पर पड़ रही है। अब राज्यों में दूध सप्लाई करने वाली सबसे बड़ी कंपनियों में से एक अमूल ने दूध के दाम बढ़ाने का ऐलान कर दिया है।

अमूल दूध बेचने वाली गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (जीसीएमएमएफ) ने अमूल मिल्क के दाम में 4 फीसदी का इजाफा कर दिया है जिसके बाद दूध 2 रुपये प्रति लीटर महंगा हो जाएगा। अमूल के बाद मदर डेयरी ने भी दूध के दाम में 2 रुपये प्रति लीटर का इजाफा कर दिया है जिससे खासतौर पर दिल्ली-एनसीआर के लोगों को झटका लगा है।

अमूल दूध के दामों में 02 रुपये की बढ़ोतरी के बाद अमूल गोल्ड, अमूल शक्ति और अमूल ताजा के दाम में इजाफा हो जाएगा। अमूल और मदर डेयरी दोनों के दूध की नई कीमतें कल यानी 17 अगस्त से लागू होंगी। इसके बाद अब अमूल गोल्ड 62 रुपये प्रति लीटर, अमूल शक्ति 56 रुपये प्रति लीटर और अमूल ताजा का रेट 50 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच जाएगा। आधा किलो अमूल गोल्ड का पैकेट 31 रुपये का और अमूल ताजा का आधा किलो का पैकेट 25 रुपये का हो जाएगा। वहीं अमूल शक्ति का आधा किलो का पैकेट 28 रुपये का हो जाएगा।

अमूल की तरफ से कहा गया है कि कंपनी ने दूध के दाम इसलिए बढ़ाए हैं क्योंकि कंपनी की कुल लागत और ऑपरेशनल लागत बढ़ गई है। मवेशियों को खिलाने की लागत में साल दर साल आधार पर 20 फीसदी का इजाफा हो चुका है और इसका असर कंपनी को ग्राहकों पर डालना ही होगा। किसानों को दिए जानें वाली कीमतों में भी पिछले साल 8-9 फीसदी का इजाफा किया जा चुका है।

गुजरात के अहमदाबाद और सौराष्ट्र, दिल्ली-एनसीआर, पश्चिम बंगाल, मुंबई और अन्य जगहों पर दूध महंगा हो जाएगा। गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन जहां भी अमूल ब्रांड के तहत पैकेज्ड और फ्रेश दूध बेचती है, वहां दूध के दाम में 2 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हो जाएगा।

बता दें कि इससे पहले अमूल ने मार्च में पैकेज्ड और ताजा मिल्क के दाम में 2 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। इसके पीछे कंपनी ने महंगे पेट्रोल-डीजल के कारण ट्रांसपोर्टेशन की बढ़ी कीमतों का हवाला दिया था।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से

Advertisement
Advertisement