Home » अर्थ जगत » सामान्य » फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जनता का बीजेपी सरकार से सवाल, आखिर कब आएंगे अच्छे दिन?

फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जनता का बीजेपी सरकार से सवाल, आखिर कब आएंगे अच्छे दिन?

SEP 14 , 2018

देशभर में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में उछाल का सिलसिला जारी है, जिसके कारण देश की जनता की जेबों पर महंगाई का बोझ दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। तेल के बढ़ते दामों से परेशान अब देश की जनता ने बीजेपी सरकार से सवाल करना भी शुरू कर दिया है कि आखिर अच्छे दिन कब आएंगे?

शुक्रवार को एक बार फिर राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 28 पैसे प्रति लीटर बढ़कर 81.28 रुपये प्रति लीटर पर जा पहुंची और डीजल कीमत 22 पैसे प्रति लीटर की उछाल के साथ 73.30 रुपये प्रति लीटर हो गई है। इसके अलावा मुंबई में पेट्रोल की कीमत 28 पैसे प्रति लीटर बढ़कर 88.67 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 24 पैसे प्रति लीटर के उछाल के साथ 77.82 रुपये प्रति लीटर हो गई है।

'आखिर कब आएंगे अच्छे दिन'

मुंबई में पेट्रोल और डीजल सबसे महंगे बिक रहे हैं। यहां के लोग तेल की बढ़ती कीमतों से परेशान हैं। मीडिया से बात करते हुए लोगों ने कहा कि पता नहीं यह सरकार क्या कर रही है। लोगों ने कहा कि सरकार को तेल की कीमतें कम करनी चाहिए। लोग यह पूछ रहे हैं कि उनके अच्छे दिन आखिर कब आएंगे?


गुरुवार को दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल-डीजल की कीमत में 13 पैसे की बढ़ोतरी 

 इससे पहले गुरुवार को दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल की कीमत में 13 पैसे प्रति लीटर और डीजल की कीमत में 11 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई थी। अमेरिका में कच्चे तेल के भंडार में कमी आने के बावजूद विदेशी बाजार में गुरुवार को कच्चे तेल के दाम में थोड़ी नरमी आई। मगर भारत में एक बार फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि हो गई। 

तेल की बढ़ती कीमतों पर विपक्ष केंद्र की मोदी सरकार पर हमलावर

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर विपक्ष लगातार मोदी सरकार के खिलाफ हमलावर है। आज कांग्रेस ने भारत बंद बुलाया है। कांग्रेस के इस बंद में करीब 21 पार्टियां भाग ले रही है। विपक्षी दलों का कहना है कि सरकार पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर टैक्स कम करे और इसे जीएसटी के दायरे में लाए। वहीं, केंद्र की मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के लिए अंतरराष्ट्रीय परिस्थिति को जिम्मेदार ठहरा रही है।

जानें किन शहरों में क्या है हाल-

शहर

पेट्रोल की कीमत

डीजल की कीमत

दिल्ली

81.28 रुपये

73.30 रुपये

मुंबई

88.67 रुपये

77.82 रुपये

चेन्नै

84.49 रुपये

77.49 रुपये

कोलकाता

83.14 रुपये 

75.36 रुपये


क्यों बढ़ रहीं पेट्रोल और डीजल की कीमतें
?

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार जारी बढ़ोतरी के लिए गिरता रुपया और कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें जिम्मेदार हैं। डॉलर के मुकाबले रुपये में लगातार गिरावट जारी है। कच्चे तेल का दाम भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ रहा है। इसके चलते तेल कंपनियों की लागत में भी इजाफा हो रहा है। इन सब वजहों से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी है।

इससे पहले भी पेट्रोल-डीजल के दामों में हुई थी बढ़ोतरी

उल्लेखनीय है कि इस महीने से पहले भी पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी देखने को मिली थी। साथ ही, लोगों को इन कीमतों की मार को भी झेलना पड़ा था और यह दाम लोगों की जेब पर भारी पड़े थे। अब देखना होगा कि क्या भविष्य में भी यह इसी तरह से बढ़ते रहेंगे या इनमें कुछ ‌राहत देख्‍ाने को मिलेगी।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.