Home अर्थ जगत सामान्य अब आप घर बैठे बनवा सकते हैं अपना वोटर आईडी कार्ड, कर सकते हैं अपडेट, जानिए कैसे

अब आप घर बैठे बनवा सकते हैं अपना वोटर आईडी कार्ड, कर सकते हैं अपडेट, जानिए कैसे

आउटलुक टीम - JAN 16 , 2019
अब आप घर बैठे बनवा सकते हैं अपना वोटर आईडी कार्ड, कर सकते हैं अपडेट, जानिए कैसे
वोटर आईडी कार्ड दिखाती महिलाएं
File Photo

अगर आप 18 साल या इससे ज्यादा की उम्र के हो गए हैं और वोटर आईडी कार्ड बनवाना चाहते हैं तो ये खबर आपके लिए है। आपको अब वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए बार-बार दफ्तरों के चक्कर काटने की जरुरत नहीं है। अब आप अपने घर पर बैठकर स्मार्टफोन या लैपटॉप की मदद से वोटर आईडी कार्ड के लिए आवेदन या उसमें कोई बदलवा या अपडेट कर सकते हैं। एक महीने के अंदर आपको अपना वोटर कार्ड मिल भी जाएगा।

दरअसल, इस प्रक्रिया को शुरू करके चुनाव आयोग सुनिश्चित करना चाहता है कि ज्यादा से ज्यादा लोग चुनाव में वोट डाल सकें। इसके लिए चुनाव आयोग ने नए मतदाताओं का वोटर आईडी कार्ड बनाने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया है। इस बार भारत के बाहर रह रहे प्रवासी भारतीय भी चुनाव आयोग की वेबसाइट पर जाकर के पंजीकरण करा सकते हैं।

चुनाव आयोग की इस पहल के बाद अब वोटर आईकार्ड बनवाना और उसमें कोई बदलवा या अपडेट करना बहुत आसान हो जाएगा। अभी भी कई लोग ऐसे हैं जिन्हें वोटर आईडी कार्ड बनवाने या उसे अपडेट करने की पूरी या सही जानकारी नहीं है। आयोग की इस सहूलियत से आपकी सभी समस्याओं का हल हो जाएगा।

अगर आपको नया वोटर कार्ड बनवाना है या वोटर कार्ड अपडेट करवाना है तो नीचे दिए गए आसान स्टेप्स को फॉलो करें-

नया ऑनलाइन वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए

-    सबसे पहले राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल की वेबसाइट https://www.nvsp.in/ पर जाएं।

-    यहां नए वोटर के लिए रजिस्ट्रेशन वाला विकल्प चुनें, इस पर क्लिक करते ही फॉर्म 6 खुल जाएगा।

-    वोटर आईडी कार्ड बेहद जरूरी और संवेदनशील दस्तावेज है, इसलिए फॉर्म को बेहद सावधानी से भरें।

-    गलत जानकारी के जरिए चुनाव आयोग को भ्रमित करने पर आपको सजा भी हो सकती है।

-    इस फॉर्म में साथ आपको अपनी एक रंगीन फोटो, सफेद बैक ग्राउंड के साथ अपलोड करनी होगी।

-    इस फॉर्म में आपको पहचान और पते के दस्वावेज की एक-एक स्कैन कॉपी भी अपलोड करनी होगी।

-    इन दस्तावेजों में आधार कार्ड, पासपोर्ट, दसवीं की मार्कशीट, बर्थ सर्टिफिकेट, पैन कार्ड, ड्राईविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, बैंक की पासबुक, फोन/पानी/बिजली/गैस का बिल और इनकम टैक्स का फॉर्म 16 शामिल हैं।

-    इस फॉर्म में दी गई जानकारी में आप 15 दिनों तक बदलाव भी कर सकते हैं।

-    सारी जानकारी देने के बाद चुनाव आयोग की ओर से बूथ लेवल ऑफिसर (बीएलओ) आपके घर अपलोड किए गए दस्तावेजों के सत्यापन के लिए आएगा।

-    बीएलओ सभी अपलोड किए गए दस्तावेजों को हार्ड कॉपी से वेरीफाई करेगा।

-    यह प्रक्रिया पूरी होने के एक महीने के अंदर आपका वोटर आईडी कार्ड डाक के जरिए आपके घर पहुंच जाएगा।

वोटर आईडी कार्ड में गलती सुधरवाने के लिए इन स्टेप्स को करें फॉलो

-    इसमें सबसे पहले राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल की वेबसाइट https://www.nvsp.in/  पर जाएं।

-    यहां Correction of entries in electoral roll वाला विकल्प चुनें, इस पर क्लिक करते ही फॉर्म 8 खुल जाएगा।

-    इस फॉर्म में मांगी गई जानकारी को सावधानीपूर्वक भरें।

-    इसके बाद आप अपने वोटर कार्ड में जो भी गलती सुधरवाना चाहते हैं उस बॉक्स को टिक कर दें।

-    आप जिस भी विकल्प पर टिक करेंगे वो एक्टिव हो जाएगा।

-    यहां पर आप बदलाव कर सकते हैं या जरूरी दस्तावेज अपलोड कर सकते हैं।

-    इसके बाद जरूरी दस्तावेज अपलोड करें और ई-मेल आईडी और मोबाइल नंबर जरूर दें।

-    इसके बाद सब्मिट बटन पर क्लिक करें, आपको आपकी जनकारी ईमेल पर मिल जाएगी।

-    आप अपने आवेदन का स्टेटस ऑनलाइन भी जान सकते हैं।

नौकरी करने वालों के लिए बड़ी राहत

अगर आपका वोटर आईडी कार्ड पहले से बना हुआ है, लेकिन आप उस जगह पर रहते नहीं हैं जो पता आपने कार्ड में लिखवाया हुआ है, तो आप पता बदलवाने का आवेदन भी ऑनलाइन कर सकते हैं। इससे नौकरी करने वाले लोगों को काफी सहूलयित मिलेगी जो छुट्‌टी न मिलने के कारण वोट डालने के लिए अपने मूल स्थान नहीं जा पाते हैं।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से