Home अर्थ जगत सामान्य बाजार में 5,380 अंकों का उतार-चढ़ाव, सेंसेक्स 1,325 अंक चढ़कर बंद

बाजार में 5,380 अंकों का उतार-चढ़ाव, सेंसेक्स 1,325 अंक चढ़कर बंद

आउटलुक टीम - MAR 13 , 2020
बाजार में 5,380 अंकों का उतार-चढ़ाव, सेंसेक्स 1,325 अंक चढ़कर बंद
बाजार में 5,380 अंकों का उतार-चढ़ाव, सेंसेक्स 1,325 अंक चढ़कर बंद
file photo
आउटलुक टीम

शेयर बाजार के लिए शुक्रवार का दिन काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा। बीएसई का सेंसेक्स सुबह 10 फीसदी गिरकर लोअर सर्किट छूने के बाद दोपहर में 1,325 अंक चढ़कर बंद हुआ। सेंसेक्स के लोअर सर्किट छूने के कारण 12 साल बाद ट्रेडिंग रोकनी पड़ी। इससे पहले 22 जनवरी 2008 को सर्किट लगने के बाद ट्रेडिंग रोकी गई थी। ट्रेडिंग 9.20 बजे के बाद 45 मिनट के लिए बंद रही।

अमेरिका में स्टिमुलस पैकेज की संभावना से भी तेजी
इसके बाद ट्रेडिंग शुरू हुई तो निचले स्तर पर खरीदारी से बाजार में सुधार आया। अमेरिका में स्टिमुलस पैकेज दिए जाने की संभावना से भी बाजार को तेजी मिली। नियम है कि अगर दिन के एक बजे तक बाजार में 15 फीसदी गिरावट आती है तो ट्रेडिंग एक घंटा 45 मिनट के लिए रोकी जाएगी। अगर एक से दो बजे के दौरान इतनी गिरावट आती है तो ट्रेडिंग 45 मिनट के लिए बंद होगी।

इस हफ्ते 15 लाख करोड़ रुपये घटा बीएसई का मार्केट कैप
सेंसेक्स ने दिन के कारोबार में 29,388.97 का निचला स्तर छुआ और गुरुवार की तुलना में 1,325.34 अंक बढ़कर 34,103.48 पर बंद हुआ। इस तरह निचले स्तर से सेंसेक्स में 5,380 अंकों का सुधार आया। एनएसई का निफ्टी-50 इंडेक्स 365.05 अंक यानी 3.81 फीसदी बढ़त के साथ 9,955.20 पर बंद हुआ। दिन में इसने 8,555.15 का निचला स्तर छुआ था। पूरे हफ्ते का देखें तो सेंसेक्स में 
3,473.14 यानी 9.24 फीसदी और निफ्टी में 1,034.25 अंक यानी 9.41 फीसदी गिरावट रही। इस दौरान बीएसई का मार्केट कैप 15 लाख करोड़ रुपये घट गया।

एसबीआई के शेयर 15 फीसदी तक चढ़े
सेंसेक्स के ज्यादातर शेयर बढ़त के साथ बंद हुए। इंडेक्स के 30 शेयरों में सबसे ज्यादा 13.87 फीसदी तेजी एसबीआई में रही। हालांकि दिन के कारोबार में इसके शेयर 15 फीसदी तक बढ़ गए थे। तेजी दिखाने वाले शेयरों में टाटा स्टील, एचडएफसी, सन फार्मा, भारती एयरटेल और आईसीआईसीआई बैंक प्रमुख हैं।

कोरोना वायरस की वजह से दुनियाभर के बाजारों में घबराहट
कोटक सिक्युरिटीज में रिसर्च के वाइस प्रेसिडेंट संजीव जरबडे ने कहा, 
विश्व बाजार के लिए यह हफ्ता सबसे खराब हफ्तों में गिना जाएगा। सप्ताह के पहले चार दिनों में अमेरिकी बाजारों में 18 फीसदी गिरावट आ गई थी। कोरोना वायरस की वजह से दुनिया की अर्थव्यस्था पर खतरा मंडराने लगा है, जिससे बाजार में घबराहट है।

एशियाई बाजारों में गिरावट, लेकिन यूरोप में तेजी
दूसरे बाजारों को देखें तो चीन के शांघाई में 1.23 फीसदी, हांग कांग में 1.14 फीसदी, सिओल में 3.43 फीसदी और टोक्यो में 6.08 फीसदी की गिरावट आई। लेकिन यूरोप के बाजार चार फीसदी बढ़त के साथ खुले। कच्चे तेल (ब्रेंट) के दाम भी 5.5 फीसदी बढ़कर 35.05 डॉलर प्रति बैरल हो गए।

 
 
 
 
 
 
अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से