Home अर्थ जगत आर्थिक पैकेज पर शाम 4 बजे मीडिया को संबोधित करेंगी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

आर्थिक पैकेज पर शाम 4 बजे मीडिया को संबोधित करेंगी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

आउटलुक टीम - MAY 13 , 2020
आर्थिक पैकेज पर शाम 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
आर्थिक पैकेज पर शाम 4 बजे मीडिया को संबोधित करेंगी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
आउटलुक टीम

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार को घोषित किए गए आर्थिक पैकेज पर विवरण साझा करने के लिए बुधवार को शाम 4 बजे मीडिया को संबोधित करेंगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने देश को 'आत्मनिर्भर' बनाने और कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की।

पीएम मोदी ने कहा, "विशेष आर्थिक पैकेज में भूमि, श्रम, तरलता और कानूनों पर जोर होगा। यह आर्थिक पैकेज हमारे मजदूरों, किसानों, ईमानदार कर दाताओं, एमएसएमई और कुटीर उद्योग के लिए है।" उन्होंने कहा, यह देश की जीडीपी का लगभग 10 फीसदी हिस्सा है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण बुधवार को पैकेज का विवरण देंगी। उन्होंने कहा, वर्ष 2020 में 20 लाख करोड़ के पैकेज से अर्थव्यवस्था को रफ्तार मिलेगी। पैकेज में वित्त मंत्रालय और रिजर्व बैंक द्वारा पहले की गई घोषणाएं भी शामिल हैं।

सुधार को गति देने वाला: सीतारमण

भाजपा ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा ‘समग्र राहत पैकेज’ बताया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने देशहित में निर्णय लिए । केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह केवल वित्तीय पैकेज नहीं, बल्कि सुधार को गति देने वाला और सोच बदलने वाला कदम है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्वीट किया, ‘कोविड-19 के समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगे बढ़कर देश का नेतृत्व कर रहे हैं। 21वीं सदी भारत की होगी और प्रधानमंत्री ने आज इस पर अमल की आधारशिला रखी है। ‘आत्मनिर्भर भारत’ इस नए बदलाव की दिशा में देश को आगे बढ़ाने के लिए हमारा मंत्र है।’ लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि प्रधानमंत्री की घोषणा से देश निराशा के माहौल से बाहर निकलेगा और उनके आत्मनिर्भरता के मंत्र से देश में नयी ऊर्जा का संचार होगा।


कांग्रेस ने 'सिर्फ हेडलाइन' करार दिया

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से मंगलवार को की गई 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा के बाद कहा कि मोदी ने मीडिया को केवल ‘हेडलाइन’ दी, जिसमें प्रवासी श्रमिकों के लिए कोई ‘हेल्पलाइन’ नहीं है। कांग्रेस और माकपा ने कहा कि भारत प्रवासी मजदूरों पर प्रवासियों की पीड़ा पर प्रधानमंत्री की चुप्पी से निराश है क्योंकि वह इस मुद्दे का निराकरण नहीं कर पाए। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि पीएम मोदी ने सिर्फ हेडलाइन बनाने की कोशिश की है। सिर्फ नबंर दिया है, ब्योरा नहीं दिया है। तिवारी ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘’पीएम मोदी के भाषण को एक लाइन में समेटा जाए तो ये- हेडलाइन हंटिंग है। एक संख्या है बीस लाख करोड़, कोई ब्योरा नहीं है। ’’

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से