Home अर्थ जगत बजट बजट 2019: जानिए कहां से पैसा कमाती है सरकार और कहां खर्च करती है

बजट 2019: जानिए कहां से पैसा कमाती है सरकार और कहां खर्च करती है

आउटलुक टीम - FEB 01 , 2019
बजट 2019: जानिए कहां से पैसा कमाती है सरकार और कहां खर्च करती है
अंतरिम बजट 2019
File Photo

किसी भी देश का बजट बेहद महत्‍वपूर्ण होता है। लोगों का इसका बेसब्री से इंतजार होता है। उन्‍हें उम्‍मीद होती है कि सरकार कुछ नई घोषणाएं करेगी, जिससे आम लोगों को राहत मिलेगी। इस बार भी लोगों को बजट 2019 का बेसब्री से इंतजार था। उम्मीद की जा रही थी कि चुनावी वर्ष होने की वजह से सरकार इस बजट में कई घोषणाएं कर सकती है और ऐसा ही हुआ। वर्तमान कार्यकाल के आखिरी बजट में मोदी सरकार ने कुछ नई घोषणाओं के साथ, जनता के लिए नई सौगातें भी दीं। सालाना 5 लाख रुपये तक पर कोई इनकम टैक्स नहीं लगेगा। साथ ही छोटे किसानों के लिए सालाना 6000 रुपए की सीधी आर्थिक मदद की भी घोषणा की गई। इनके अलावा सरकार ने जनता के लिए और भी कई सौगातों का ऐलान किया। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट पेश किया।  

क्‍या आपने कभी सोचा है कि सरकार बजट में जो घोषणाएं करती है, उसके लिए पैसा आखिर कहां से आता है और सरकार इन पैसों को किन मदों में खर्च करती है? शुक्रवार यानि आज वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए पेश किए गए अतंरिम बजट से ये बात सामने आई कि सरकार के पास पैसा कहां से आया और वह किन मदों में वह इसे खर्च करेगी।

बजट 2019-20रुपया कहां से आता है

कॉर्पोरेट टैक्स (Corporation-Tax)

21 पैसे

उधार, अन्य देयताएं (Borrowings & Other Liabilities)

19 पैसे

आयकर (Income Tax)

17 पैसे

सीमा शुल्क (Customs)

4 पैसे

केंद्रीय उत्पाद-शुल्क (union Excise Duties)

7 पैसे

सेवा कर और अन्य कर (Service Tax & Other taxes)

21 पैसे

कर- भिन्न राजस्व (Non-Tax revenue)

8 पैसे

ऋण-भिन्न पूंजी प्राप्तियां (Non-debt Capital receipts)

3 पैसे

 

जानिए किन मदों में सरकार इन रुपयों को खर्च करती है- 

 

बजट 2019-20रुपया कहां जाता है

रक्षा (Defence)

8 पैसे

ब्याज अदायगी (iterest Payment)

18 पैसे

केंद्रीय क्षेत्र की योजना (Central Sector Scheme)

12 पैसे

केंद्रीय प्रायोजित योजनाएं (Centrally Sponsored Scheme)

9 पैसे

अन्य व्यय (Other Expenditure)

8 पैस

 पेंशन (Pension)

5 पैसे

करों और शुल्कों में राज्यों का हिस्सा (States share of taxes & duties)

23 पैसे

वित्त आयोग और अन्य अंतरण (Finance Commission & other transfers)

8 पैसे

आर्थिक सहायता (Subsidies)

9 पैसे


जानें कितना है वित्तीय वर्ष 2019-20 का बजट अनुमान-

सरकार के अनुमान के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2019-20 में राजस्व की प्राप्तियों का बजट अनुमान 1977693 करोड़ रुपये है। पूंजी की प्राप्तियों (ऋणों की वसूली, अन्य प्राप्तियां, उधार और अन्य देयताएं) की बात करें तो इसका अनुमान 806507 करोड़ है। इस तरह कुल प्राप्तियां 2784200 करोड़ है।

वहीं, कुल व्यय में राजस्व खाते पर 2447907, ब्याज भुगतान 665061, पूंजी परिसंपत्तियों के सृजन हेतु सहायता अनुदान 200740 और पूंजी खाते पर 336293 खर्च होगा। अगर घाटे के अनुमान पर बात करें तो इसमें राजस्व घाटा 470214, राजकोषीय घाटा 703999 और प्राथमिक घाटा 38938 होगा। 

वहीं, 2019-20 के बजट अनुमान में जीडीपी 21007439 करोड़ होने का पूर्वानुमान है, जो 2018-2019 के संशोधित अनुमान  18840731 करोड़ के अनुमानित जीडीपी की तुलना में 11.5% ज्यादा है। 

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से