Home Author

मुद्दों को मुंह चिढ़ाते नतीजे

बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजों पर हमें आश्चर्य होना चाहिए। इसलिए नहीं कि एग्जिट पोल के नतीजे देखकर...

सरकार मिली जनादेश नहीं

“भाजपा को समझ में आ गया होगा कि हमेशा भावनात्मक मुद्दे काम नहीं आते, लेकिन विपक्ष का मुगालते में रहना...

फोटो के पीछे एक अलिखित समीकरण

जब मैंने बिहार के शपथ ग्रहण समारोह में लालू प्रसाद यादव और अरविंद केजरीवाल की तस्वीर देखी, तो मुझे बहुत दुःख हुआ, शर्मिंदगी भी महसूस हुई।

सूखे ने आंख के आंसू भी सूखा दिए!

योगेंद्र यादव की डायरी: संवेदना यात्रा