Home Author

अनुभव के उजाड़ में जीवन की बारिश

“प्रत्यक्षा का नया उपन्यास बारिशगर उनके इस वैशिष्ट्य का अन्यतम उदाहरण है”

'पुराकथाओं के पन्नों में दबकर सोई हुई ‌स्त्रियां'

पवन करण ने 'स्‍त्री मेरे भीतर' जैसे कविता संग्रह के साथ हिंदी कविता को स्‍त्री-संवेदना का जैसे नया...

कहानी - सहेलियां

प्रसिद्ध कवि और कथाकार प्रियदर्शन का जन्म 24 जून, 1968 को रांची में हुआ। उनकी कई किताबें चर्चित हुई हैं। उसके हिस्से का जादू और बारिश धुआं और दोस्त चर्चित...

वीरेन दा जब तुम्हारे न रहने की खबर आई

प्रख्यात कवि वीरेन डंगवाल का मुंह के कैंसर से निधन हो गया। उनकी याद में कवि-कहानीकार प्रियदर्शन की कलम भी रो पड़ी। उन्हीं के शब्दों में, ‘मुंबई के रास्ते...