Home Author

खत्म हुआ कश्मीरियों की अस्मिता का प्रतीक

जब देश आजाद हुआ तो मूलतः दो तरह के इलाके थे– रजवाड़े और वे हिस्से जिन पर अंग्रेजों का सीधा नियंत्रण था।...

कश्मीर का चुनावी इतिहास: 1972 से पहले विधायकों को क्यों कहा जाता था 'मेड बाय ख़ालिक़'

1951 में कश्मीर में पहली बार चुनाव हुआ। लेकिन ख़बर यह नहीं इसके भीतर है। कुल 75 सीटों में से 73 सीटों पर नेशनल...

धुंधले रास्तों की ओर मुड़ता कश्मीर

राइजिंग कश्मीर के संपादक और मानवाधिकार कार्यकर्ता शुजात बुखारी की हत्या राज्य में पीडीपी-भाजपा...