Home कला-संस्कृति
कला-संस्कृति

भारतीय संस्कृति का यह विचलन !

“देश की एकता और अखंडता के लिए अनिवार्य है कि सभी धर्म, समुदाय, संस्कृतियों के बीच साझा संवाद हो” जिस...

राजनीति की गर्द और गांव के दर्द का आईना

“किताब के सफों में दर्ज लफ्ज और उनको ललकारते कार्टून खुद बताएंगे कि उनमें रोचक/रोमांचक क्या...

दिल के हर कोने को छूती कहानियां

“अधिकांश कहानियों में दांपत्य प्रमुखता से दर्ज है” सुपरिचित कथाकार राम नगीना मौर्य का यह तीसरा...

भोपाल में ‘विश्व रंग’ का आयोजन, दुनिया भर से साहित्यकार हुए शामिल

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में साहित्य, संस्कृति और कला के विभिन्न रंगों को समेटता अंतरराष्ट्रीय...

समय से मुठभेड़

“प्रेम पर कुछ बहुत मर्मस्पर्शी कविताएं इस संग्रह में हैं” कवि मदन कश्यप के छठे कविता संग्रह पनसोखा...

बेगम के बोल

“बेगम अख्तर के संगीत, उनके किरदार और उनके जीवन-संगीत के इर्द-गिर्द फैली अनेक कहानियों को चार खंडों...

वास्तविक समाजवादी

समाजवादी चिंतक किशन पटनायक के लेखों के संकलन की नई किताब, संभावनाओं की तलाश पढ़ने के बाद समाजवादियों का...

जिए जा रहे जीवन की गूंज

“जो लोग कुलदीप कुमार को साहित्यिक-सांस्कृतिक, सामाजिक-राजनैतिक विषयों पर निरंतर हिंदी-अंग्रेजी में...

भूला-बिसरा कलमकार

“कहानीकार अरविंद कुमार ने भोजपुरी जी की रचनावली निकाल कर नई पीढ़ी को उनके व्यक्तित्व और योगदान से...

एटवुड और एवरिस्तो ने संयुक्त रूप से जीता बुकर प्राइज, 27 साल बाद एक विजेता चुनने का टूटा नियम

कनाडा की मार्गरेट एटवुड और ब्रिटेन की बर्नरडाइन एवरिस्तो को संयुक्त रूप बुकर प्राइज 2019 का विजेता चुना...

गांधी की मृत्यु भी एक संदेश

बीसवीं शताब्दी के अग्रणी हंगेरियन साहित्यकार नेमेथ लास्लो (1901-1975) अपनी ‘गांधी की नाट्य डायरी’ में...

जाति विनाश जरूरी

“जाति प्रथा और हिंदू धर्म के एक-एक तर्क का आंबेडकर ने खंडन किया” डॉ. आंबेडकर के प्रसिद्ध भाषण...

आखिरकार दरियागंज संडे बुक मार्केट को मिला नया ठिकाना, जानिए अब कहां लगेगा बाजार

किताब प्रेमियों के लिए खुशखबरी है। पुरानी दिल्ली की पहचान से जुड़ी दरियागंज की संडे बुक मार्केट को...

दिन भर सिर्फ वही

“महेंद्र सिंह धोनी एक मोबाइल ब्रांड लावा का महिमा मंडन करते हैं” उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019 को...