Advertisement
Home कला-संस्कृति
कला-संस्कृति

शहरनामा/देवास: आध्यात्मिक और लोकसंगीत की संगत वाला शहर

“आध्यात्मिक और लोकसंगीत की संगत वाला शहर” मां चामुण्डा की नगरी हर शहर का अपना मिजाज होता है, अपनी...

सिर्फ तुम, दरबार सिनेमा और खाली दिल नहीं जान वी ये मंगदा

देखने में तो नहीं लगता है, पर सच यही है कि बड़ी मौसी के सबसे छोटे लड़के सुनील भैया मुझसे छह माह बड़े हैं।...

भिखारी ठाकुर: भोजपुरी के शेक्सपियर, नाटककार, गीतकार, अभिनेता, लोकनर्तक, लोकगायक, सामाजिक कार्यकर्ता

‘सइयां गइले कलकतवा ए सजनी, गोड़वा में जूता नइखे, हाथवा में छातवा ए सजनी, सइयां कइसे चलिहें राहातवा ए...

यादें: दो बाँके, एक फिल्म और जूही चावला की "मैं तेरी रानी तू राजा मेरा"

डिस्केलमर : ग्लोब के किसी हिस्से में नब्बे के दो दीवाने हुए। दो असल गंजहे। पर कानूनन यही कहना है कि इस...

जयंती विशेष: जौन एलिया ऐसा शायर जिसे इल्म ने मारा लेकिन, मलाल नहीं किया

मकदूनिया को प्रसिद्धि मिली सिकंदर की जन्मभूमि होने से वहीं अमरोहा को प्रसिद्धि दिलाने में जौन एलिया...

एवन साइकिल वाली लड़की, 'रंग' की चिट्ठी और बेदर्दी से प्यार का...

नाम जानकर क्या कीजिएगा पर यह जरूर जानिए कि लड़कों से ठस्स भरे हुए स्कूल में वह जिस ताव और तेवर के साथ रहती...

स्मृति: कथा साहित्य का मजबूत स्तंभ

“लेखिका मन्नू भंडारी का अपना विशिष्ट स्थान रहा है” मन्नू भंडारी (3 अप्रैल 1931-15 नवंबर 2021) हिंदी की...

सीताचरित्र: पढ़ें जानकी-राम विवाह पर एक और प्रसंग

आज विवाहपंचमी है। जानकी-राम के विवाह का दिन। सीताराम विवाह के एक अलग प्रसंग से गुजरा। 'सीताचरित्र'...

यादें : दिलवाले और दिलवाले के आशिक की 'पूस की रात'

'जीता था जिसके लिए' की जनव्याप्ति उन दिनों चालीसा से थोड़ा ही कम थी। एक ओर हमारे गाँव के मंदिर से सुबह में...

यादें: "खता तो जब हो हम हाल-ए-दिल"-दिव्या भारती के लिए उपवास और दोस्ती में दरार

उसके मामा की एक ड्राईक्लीनिंग शॉप, सिनेमा रोड में थी। इंटर कॉलेज से जो समय बचता, वह वहीं पर बिताता। उसका...

शहरनामा / बलिया: पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर और क्रांतिकारी मंगल पांडे का बलिया

“पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर और क्रांतिकारी मंगल पांडे का बलिया” मंगल पांडे से चंद्रशेखर तक देश...

यादें: रखना किताबों को गिरवी, देखना 'दलाल' और दोस्ती का लिटमस टेस्ट

जिले से बाहर "दलाल" खूब धमाका मचाकर आयी थी। उसके गीत पहले से सबकी ज़बान पर चढ़े हुए थे। अब इंतज़ार फ़िल्म का...

भारत के प्रधानमंत्री: लोकत्रांतिक भारत की प्रगति और बाधाओं के बारे में सोचने के सूत्र देती किताब

पुस्तक: भारत के प्रधानमंत्री: देश, दशा, दिशा  लेखक : रशीद किदवई प्रकाशक : राजकमल...

डब्ल्यू टी से सिनेमा देखने वाले लड़के और एक थी एवन वाली लड़की

(स्पष्टीकरण : किस्से के दो हिस्से हैं दोनों सच में घटित) दुलारा का एक गीत हर्षवर्द्धन और आनंद के मन में...


Advertisement
Advertisement