Home कला-संस्कृति
कला-संस्कृति

संभावनाओं के नए सोपान

“नई किताबों और नए लेखकों ने जताईं उम्मीदें, लेकिन विदा हुए हमसे कई महत्वपूर्ण लेखक” हर बार नया साल...

कल से शुरू होगा किताबों का कुंभ

कल यानी 5 जनवरी 2019 से विश्व पुस्तक मेला शुरू हो रहा है। 27वें विश्व पुस्तक मेले की थीम इस बार, दिव्यांग...

भीमा-कोरेगांव युद्ध की कहानी, जिसकी सालगिरह पर सैकड़ों लोग जमा हुए

नये साल के मौके पर महाराष्ट्र के पुणे जिले में भीमा-कोरेगांव युद्ध की 201वीं सालगिरह के आयोजन में...

भारत की पहली महिला सुपरहीरो प्रिया आ रही है दिल्ली

एसिड हमले में बची लड़कियों की साहस और सामाजिक उपहास से उपजी कहानियों की दिल्ली में जल्द ही प्रदर्शनी...

क्रिसमस ट्री से जुड़ी 5 रोचक बातें

25 दिसंबर को दुनिया भर में क्रिसमस मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने घरों को सजाते हैं और क्रिसमस ट्री अपने...

कैफी आजमी के जन्मशताब्दी वर्ष में होगी खास पेशकश, राग शायरी

साल 2019 की 14 जनवरी कुछ खास होगी। यह दिन उर्दू के प्रसिद्ध शायर, लेखक और एक्टिविस्ट कैफी आजमी का शताब्दी...

लोक जीवन की समझ का कवि

“नीरज पर यह पुस्तक उनके जीवन, साहित्य, संघर्ष और वैभव सबको समझने का एकाग्र प्रयत्न है, जिसके भीतर नीरज...

गंगा-जमुनी तहजीब वाली तरक्कीपसंद शायरा

“धर्मनिरपेक्ष और दबे-कुचले इंसानों के प्रति हमदर्दी से भरी फहमीदा का जीवन बंधनों को तोड़ने के...

विनोद कुमार शुक्ल की कविताएं

आज की सामाजिक, साहित्यिक, राजनैतिक और सांस्कृतिक चुनौतियों पर वरिष्ठ कवि की ये टिप्पणियां कविता -1 यह...

'मतदान केंद्र पर झपकी' का हर शब्द एक वसीयत

केदारनाथ सिंह का नया संग्रह मतदान केंद्र पर झपकी पुन: उनकी याद दिलाने के लिए हिंदी जगत के सम्‍मुख है।...

जानिए, आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स के बारे में जिन्हें मिला 2018 का मैन बुकर पुरस्कार

आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स को उनकी किताब 'मिल्कमैन' के लिए प्रतिष्ठित मैन बुकर अवॉर्ड-2018 से सम्मानित...

विष्णु खरे: आखिरी मूर्तिभंजक

“ विष्णु खरे ने हिंदी कविता के स्वरूप को बुनियादी ढंग से बदला और विश्व साहित्य-सिनेमा से परिचय...

दिल्ली हिंदी अकादमी के उपाध्यक्ष व कवि-पत्रकार विष्णु खरे का निधन

दिल्ली हिंदी अकादमी के उपाध्यक्ष विष्णु खरे का निधन हो गया है। उन्हें बुधवार को ब्रेन हैमरेज के बाद...

हिंदी और उसका सत्ता विमर्श

“हिंदी के नाम पर एक पूरा उद्योग स्थापित हो गया है जिस पर करदाता का अरबों रुपया खर्च किया जाता है, फिर...