Home Author

डायरेक्ट की इनडायरेक्ट मुश्किलें

“खाद्य महंगाई दर दहाई अंकों में चली गई है। उपभोक्ता हित के लिए घरेलू किसानों की कीमत पर सस्ते आयात का...

हम हैं साथी चीनी मिलों के

“सरकार की नीतियां हमेशा चीनी मिलों के पक्ष में रही हैं, लेकिन किसानों के लिए दो साल से गन्ने का राज्य...

यह महंगाई अच्छी है

“देश के अधिकांश हिस्से में गोरक्षा की नीति नुकसानदेह रही, क्योंकि किसानों के लिए दूध नहीं देने वाले...

बदलाव, जो सकारात्मक हों

साल 2019 कई अहम पड़ाव लेकर आया जो इसे दशक के बाकी सालों से अलग करते हैं। चंद दिनों बाद शुरू होने वाला वर्ष 2020...

चीनी मिलों के ‘अच्छे दिन’

“गन्ना मूल्य स्थिर रखकर किसान की आय दोगुनी करने के फॉमूले के लिए तो शायद किसी नोबेल अर्थशास्‍त्री...

किसान हित की बात तो अर्धसत्य

“अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और यूरोपीय देश भारतीय बाजार में अपना माल खपाने के लिए लॉबिंग करते हैं, लेकिन हम...

‘भारत’ से आया सुधार का मौका

“आर्थिक कमजोरी का हल ढूंढ़ने के लिए जो पैकेज और सुधार लागू किए जा रहे हैं, उनमें फोकस कॉरपोरेट जगत और...

ग्लोबल से पहले लोकल जरूरी

"दूसरे देशों के साथ होने वाले कृषि समझौतों से पहले सरकार किसानों से बात नहीं करती, वह इनको गोपनीय बनाकर...

किसान को पाबंदी का तोहफा

कृषि उपज की बेहतर दाम की संभावना बनते ही प्रतिबंध आ जाता है, क्योंकि सरकार को फिक्र उपभोक्ताओं के आंसू...

गांधी को आत्मसात करें

"हम सभी के लिए यह समय आत्मालोचना का है कि जिस गांधी के मूल्यों और दर्शन को दुनिया स्वीकार कर रही है, वे...

गलत फैसलों के फंदे में पस्त आर्थिकी

“ताजा आंकड़े कह रहे हैं कि जिस ‘चमत्कारिक’ गुजरात मॉडल के सहारे देश की अर्थव्यवस्था को नई...

मीठी नहीं यह चाशनी

चीनी निर्यात पर पैकेज, किसानों के नाम पर उद्योग की मदद के इस उदाहरण में सरकार की प्राथमिकता साफ दिखती...

इंडिया के लिए भारत में सुधार

सुधार अगर सरलीकरण के बजाय सरकारी नियंत्रण बढ़ाने का ही दूसरा नाम है, तो कृषि क्षेत्र का भला इन सुधारों...

लोकतंत्र का मखौल

हाल की राजनैतिक घटनाएं लोकतांत्रिक व्यवस्था और नैतिकता को लेकर नई बहस की गुंजाइश पैदा कर रही हैं।...

बजट में नई परंपरा, नए सपने बस आंकड़े नदारद

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पांच जुलाई को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली...

मंत्रीमंडल के गठन पर जानें मोदी ने किन समीकरणों का रखा ध्यान, पढ़ें खास रिपोर्ट

“दूसरी मोदी सरकार में कई नए चेहरे आए तो कई पुराने विदा हुए लेकिन जाति और क्षेत्रीय समीकरणों में भाजपा...