Home Author

राहत पैकेज के हकदार किसान भी

“किसानों को राहत पैकेज की दरकार है। मध्य वर्ग के लिए ईएमआइ में छूट दी जा सकती है तो किसान तो उससे...

राहत पैकेज के हकदार किसान भी

देश और दुनिया कोरोनावायरस के संक्रमण से फैलने वाली कोविड-19 महामारी का सामना कर रही है। यह महामारी ऐसे...

एक्सक्लूसिव: सूना हुआ आनंद विहार, पुलिस ने पूरे इलाके को खाली कराया, केवल सुनसान सड़कें

3 दिन से हजारों हजार लोगों के लिए घर पहुंचने की आस बना आनंद विहार का इलाका एक झटके में सुनसान हो गया है।...

कोविड-19 और लॉकडाउन 2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 24 मार्च की शाम 8 बजे के संबोधन में 25 मार्च से 21 दिन से देशव्यापी...

उधार के ‘अच्छे दिन’!

“किसानों का भ्रुगतान लटकाए रखकर चीनी मिलें ब्याज मुक्त पूंजी के बिजनेस मॉडल पर अच्छे दिन का मजा ले...

किसान बढ़े तो अर्थव्यवस्‍था उबरे

मंदी के दुश्चक्र से, देश की अर्थव्यवस्‍था किसान की हालत सुधरने से ही निकलेगी, लेकिन खेती-किसानी की आय...

कवर स्टोरीः दिल्‍ली दंगे में धू-धूकर जलीं जिंदगियां

रविवार 1 मार्च 2020। रात नौ बजकर 24 मिनट। मैं पूर्वी दिल्ली के गुरु तेगबहादुर अस्पताल के वार्ड नंबर 24 में...

रास्ता तो सही, मंजिल जरूरी

“सरकार ने कुछ बदलाव ऐसे किए हैं जिससे एफपीओ बनाना आसान होगा, लेकिन सबसे जरूरी बात किसानों में भरोसा...

केजरीवाल की जीत के सियासी मायने बड़े

दिल्ली में एक बार फिर आम आदमी पार्टी की सरकार बनने जा रही है। सत्ता में दोबारा प्रचंड बहुमत के साथ...

डायरेक्ट की इनडायरेक्ट मुश्किलें

“खाद्य महंगाई दर दहाई अंकों में चली गई है। उपभोक्ता हित के लिए घरेलू किसानों की कीमत पर सस्ते आयात का...

हम हैं साथी चीनी मिलों के

“सरकार की नीतियां हमेशा चीनी मिलों के पक्ष में रही हैं, लेकिन किसानों के लिए दो साल से गन्ने का राज्य...

यह महंगाई अच्छी है

“देश के अधिकांश हिस्से में गोरक्षा की नीति नुकसानदेह रही, क्योंकि किसानों के लिए दूध नहीं देने वाले...

बदलाव, जो सकारात्मक हों

साल 2019 कई अहम पड़ाव लेकर आया जो इसे दशक के बाकी सालों से अलग करते हैं। चंद दिनों बाद शुरू होने वाला वर्ष 2020...

चीनी मिलों के ‘अच्छे दिन’

“गन्ना मूल्य स्थिर रखकर किसान की आय दोगुनी करने के फॉमूले के लिए तो शायद किसी नोबेल अर्थशास्‍त्री...

किसान हित की बात तो अर्धसत्य

“अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और यूरोपीय देश भारतीय बाजार में अपना माल खपाने के लिए लॉबिंग करते हैं, लेकिन हम...

‘भारत’ से आया सुधार का मौका

“आर्थिक कमजोरी का हल ढूंढ़ने के लिए जो पैकेज और सुधार लागू किए जा रहे हैं, उनमें फोकस कॉरपोरेट जगत और...