Home » Author

इस नफरत से तो तौबा!

“ सरकार में बैठे व्यक्ति ऐसे कदम उठाते हैं तो यह लोकतांत्रिक देश की कानून-व्यवस्था के लिए चिंता का...

“कश्मीर का समाधान होकर रहेगा”

भाजपा के पीडीपी से नाता तोड़ने और महबूबा मुफ्ती सरकार को अलविदा कहने के बाद कश्मीर में केंद्रीय गृह...

इसकी टोपी उसके सिर

केंद्र सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रह्मण्यन की विदाई हो गई है और अगले कुछ दिनों में वे...

क्या स्वदेशी लॉबी के शिकार हुए मोदी सरकार के आर्थिक सलाहकार

चीफ इकोनामिक एडवाइजर अरविंद सुब्रमण्यन का इस्तीफा एक सिलसिले का हिस्सा है। असल में देश की आर्थिक...

राजनाथ सिंह ने उपराज्यपाल से दिल्ली विवाद हल करने के लिए कहा

दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी और दिल्ली के उपराज्यपाल के बीच चल रहे विवाद का जल्द हल होने की...

गठबंधनों की नई बेला

आजकल समझौतों का दौर चल रहा है तभी तो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तरी कोरिया के चेयरमैन किम...

गन्ना किसानों के पैकेज में चीनी कम, पैकेजिंग ज्यादा

कैराना के लोकसभा उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हार ने एक बड़ा काम किया है। देश के गन्ना...

भरोसे पर खरी उतरें संस्थाएं

किसी भी लोकतंत्र के लिए सबसे अहम है उसकी संवैधानिक संस्थाओं में नागरिकों का भरोसा कायम रहे। यह भरोसा...

कैराना की प्रयोगशाला में गठबंधन का फार्मूला, ऐसे खाई भाजपा ने मात

करीब पांच साल पहले दंगों की प्रयोगशाला बने शामली, कैराना और मुजफ्फरगर का नया चेहरा सामने आया है। साल 2014...

जो जीता वही सिकंदर, "आपरेशन कमल" इस बार फेल

आखिरकार जोड़-तोड़ की राजनीति हारी और लोकतांत्रिक मूल्यों की जीत हुई। एक बार फिर साबित हो गया कि देश में...

‘पुरानी विरासत लौटानी है’

“कैराना संसदीय क्षेत्र और नूरपुर विधानसभा में विपक्षी एकता के चेहरे रालोद के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी...

पुराने और नए समीकरण की जोर आजमाइश

“ पूरब में गोरखपुर और फूलपुर के बाद पश्चिम उत्तर प्रदेश में कैराना और नूरपुर के उपचुनाव में भाजपा...

जनादेश की राजनीति

“चुनाव नतीजों ने सबके हिस्से में एक न एक मायने में कुछ जोड़ा तो सबकी राह में कुछ रोड़े भी अटका दिए और...

अब परीक्षा का अंतिम दौर

लोकतंत्र में चुनी हुई सरकार को मतदाता पांच साल देता है उन वादों को पूरा करने के लिए जो सत्ताधारी दल ने...

कठुआ, उन्नाव, सूरत, एटा...

“ हालात बदलेंगे, जब समाज जगेगा। अपराध को सामुदायिक चश्मे से देखने की प्रवृत्ति और राजनैतिक संरक्षण...

डिजिटल खतरों में निहत्थे

“दुनिया की बड़ी इकोनॉमी में शुमार होती हमारी अर्थव्यवस्था और अथाह डेटा पैदा करने वाले देशों में से...


Copyright © 2016 by Outlook Hindi.