Home कला-संस्कृति
कला-संस्कृति

लोक जीवन की समझ का कवि

“नीरज पर यह पुस्तक उनके जीवन, साहित्य, संघर्ष और वैभव सबको समझने का एकाग्र प्रयत्न है, जिसके भीतर नीरज...

गंगा-जमुनी तहजीब वाली तरक्कीपसंद शायरा

“धर्मनिरपेक्ष और दबे-कुचले इंसानों के प्रति हमदर्दी से भरी फहमीदा का जीवन बंधनों को तोड़ने के...

विनोद कुमार शुक्ल की कविताएं

आज की सामाजिक, साहित्यिक, राजनैतिक और सांस्कृतिक चुनौतियों पर वरिष्ठ कवि की ये टिप्पणियां कविता -1 यह...

'मतदान केंद्र पर झपकी' का हर शब्द एक वसीयत

केदारनाथ सिंह का नया संग्रह मतदान केंद्र पर झपकी पुन: उनकी याद दिलाने के लिए हिंदी जगत के सम्‍मुख है।...

जानिए, आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स के बारे में जिन्हें मिला 2018 का मैन बुकर पुरस्कार

आयरलैंड की लेखिका एना बर्न्स को उनकी किताब 'मिल्कमैन' के लिए प्रतिष्ठित मैन बुकर अवॉर्ड-2018 से सम्मानित...

विष्णु खरे: आखिरी मूर्तिभंजक

“ विष्णु खरे ने हिंदी कविता के स्वरूप को बुनियादी ढंग से बदला और विश्व साहित्य-सिनेमा से परिचय...

दिल्ली हिंदी अकादमी के उपाध्यक्ष व कवि-पत्रकार विष्णु खरे का निधन

दिल्ली हिंदी अकादमी के उपाध्यक्ष विष्णु खरे का निधन हो गया है। उन्हें बुधवार को ब्रेन हैमरेज के बाद...

हिंदी और उसका सत्ता विमर्श

“हिंदी के नाम पर एक पूरा उद्योग स्थापित हो गया है जिस पर करदाता का अरबों रुपया खर्च किया जाता है, फिर...

किताब पर प्रतिबंध के लिए दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- लेखक के कौशल का होना चाहिए सम्मान

सुप्रीम कोर्ट ने उस पुस्तक पर प्रतिबंध लगाने के लिए दायर याचिका बुधवार को खारिज कर दी, जिसमें एक हिन्दू...

संपूर्ण सिनेमा की तलाश

प्रताप सिंह साहित्य की कई विधाओं में अपनी सजग-उपस्थिति और संपन्न दृष्टि से चौंकाने वाले वरिष्ठ...

हरिशंकर परसाई, जिन्होंने व्यंग्य को समाज के व्यापक प्रश्नों से जोड़ा

हरिशंकर परसाई 22 अगस्त 1922 को मध्यप्रदेश के होशंगाबाद के जमानी गांव में पैदा हुए। ‌शिक्षा के दौरान ही...

इस्मत चुगताई को अपनी कहानी की वजह से झेलना पड़ा मुकदमा, इस लेखिका पर बना गूगल का डूडल

उर्दू की प्रसिद्ध साहित्यकार, पद्मश्री से सम्मानित इस्मत चुगताई की आज 103वीं जयंती है और इस अवसर पर गूगल...

कलम के मोहपाश में बांध लेने वाली विद्रोही लेखिका इस्मत चुगताई

अपनी कलम के मोहपाश में बांध लेने वाली विद्रोही लेखिका इस्मत चुगताई की आज 107वीं जयंती है। हालांकि उनके...

'मेरी कविता जंग का ऐलान है, पराजय की प्रस्तावना नहीं'

ठन गई, मौत से ठन गई, जूझने का मेरा इरादा न था, मोड़ पर मिलेंगे इसका वादा न था, मैं जी भर जिया, मैं मन से...