Home एग्रीकल्चर मौसम पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड के साथ पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बारिश का अनुमान
पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड के साथ पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बारिश का अनुमान
पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड के साथ पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बारिश का अनुमान

पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड के साथ पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बारिश का अनुमान

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार आगामी 24 घंटों के दौरान, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड, अरुणाचल प्रदेश, असम और नागालैंड में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। छत्तीसगढ़, तेलंगाना, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, मध्य महाराष्ट्र तथा कोंकण व गोवा में कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं।

जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, बिहार, अंडमान-निकोबार तथा लक्षद्वीप समूह के अलग-अलग स्थानों पर भी हल्की बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर मध्यम बारिश होने का अनुमान है। गुजरात, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश और विदर्भ में एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश देखी जा सकती है।

कई राज्यों में सामान्य से ज्यादा हुई है अक्टूबर के पहले सप्ताह में बारिश

मानसून की विदाई का समय होने के बावजूद कई राज्यों में लगातार बारिश हो रही है जिसका असर खरीफ की फसलों पर पड़ने की आशंका है। मौसम विभाग के अनुसार अक्टूबर के पहले सप्ताह में गुजरात रीजन में सामान्य से 804 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है। सौराष्ट्र और कच्छ में इस दौरान सामान्य से 401 फीसदी, वेस्ट राजस्थान में 418 फीसदी, ईस्ट राजस्थान में 477 फीसदी, हिमाचल प्रदेश में 223 फीसदी तथा पंजाब में 281 फीसदी बारिश सामान्य से ज्यादा दर्ज की गई। उत्तराखंड में इस दौरान सामान्य से 172 फीसदी, ईस्ट उत्तर प्रदेश में 57 फीसदी और जम्मू-कश्मीर में 136 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है।

जम्मू-कश्मीर के उत्तरी भागों पर पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है

मौसम की जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के अनुसार जम्मू-कश्मीर के उत्तरी भागों पर एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है। दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान तथा उससे सटे पाकिस्तान के भागों पर भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र विकसित है। इसके अलावा, एक ट्रफ रेखा दक्षिणी छत्तीसगढ़ से तेलंगाना होते हुए दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक तक जा रही है जबकि एक अन्य चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र आंतरिक ओडिशा के भागों पर बना हुआ है। उप हिमालयी पश्चिम बंगाल से ओडिशा होते हुए चक्रवाती क्षेत्र तक भी एक ट्रफ रेखा बनी हुई है। हवाओं की अनिरंतरता कोमोरियन क्षेत्र से तमिलनाडु होते हुए दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक तक है।

पिछले 24 घंटों के दौरान असम और महाराष्ट्र में हुई बारिश

पिछले 24 घंटों के दौरान, असम और मध्य महाराष्ट्र के हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी बारिश भी हुई है। इस दौरान तेलंगाना, ओडिशा, छत्तीसगढ़, मराठवाड़ा, आंध्रप्रदेश, आंतरिक तमिलनाडु और उत्तरी आंतरिक कर्नाटक के हिस्सों में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड की गई। गुजरात, राजस्थान, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल, नागालैंड, मणिपुर, मिज़ोरम, त्रिपुरा, अंडमान व निकोबार द्वीप समूह तथा लक्षद्वीप समूह के भी अलग-अलग स्थानों पर हल्की बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर मध्यम बारिश देखी गई।