Home एग्रीकल्चर मौसम पश्चिमी विक्षोभ से उत्तर भारत के पहाड़ी और मैदानी राज्यों में बारिश होने का अनुमान
पश्चिमी विक्षोभ से उत्तर भारत के पहाड़ी और मैदानी राज्यों में बारिश होने का अनुमान
पश्चिमी विक्षोभ से उत्तर भारत के पहाड़ी और मैदानी राज्यों में बारिश होने का अनुमान

पश्चिमी विक्षोभ से उत्तर भारत के पहाड़ी और मैदानी राज्यों में बारिश होने का अनुमान

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू व कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, लद्दाख और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और पश्चिमी मध्य प्रदेश में कई जगहों पर बारिश होने का अनुमान है।

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान (आईएआरआई) ने किसानों को सलाह दी है कि 15 जनवरी को मध्यम से घना कोहरा और रात की बहुत हल्की बारिश होने की संभावना है। 16 जनवरी को बारिश और तेज हवा (20-25 किमी प्रति घंटा) की संभावना है। 19 जनवरी को शाम/रात को गरज के साथ बारिश  होने की संभावना है। आने वाले दिनों में वर्षा की सम्भावना को देखते हुए सभी फसलों में सिंचाई तथा किसी भी प्रकार का छिड़काव ना करें।

एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान के क्षेत्रों पर पहुंचा

मौसम की जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के अनुसार एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान और आसपास के क्षेत्रों पर पहुंच गया है। इसके प्रभाव से विकसित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर-पश्चिमी राजस्थान पर दिखाई दे रहा है जबकि एक अन्य चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तरी मध्य महाराष्ट्र पर विकसित हो गया है। उत्तर-पश्चिमी राजस्थान पर बने सिस्टम से उत्तरी-मध्य महाराष्ट्र के ऊपर बने चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र के बीच एक ट्रफ रेखा बन गई है। एक अन्य चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र श्रीलंका और आसपास के क्षेत्रों पर बना हुआ है।

जम्मू कश्मीर, हिमाचल, लद्दाख और उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी का अनुमान

अगले 24 घंटों के दौरान जम्मू व कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, लद्दाख और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है। दक्षिण-पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी मध्य प्रदेश में हल्की बारिश और गरज के साथ बारिश होने की आशंका है। पंजाब, हरियाणा के उत्तरी भागों सहित दिल्ली-एनसीआर के क्षेत्रों में हल्की बारिश देखने को मिल सकती है। इस दौरान असम और अरुणाचल प्रदेश में हल्की बारिश होने की संभावना है। 16 जनवरी सुबह तक उत्तरी मैदानी इलाकों में न्यूनतम तापमान एक बार फिर बढ़ सकता है।

पूर्वी राजस्थान के कई जिलों में बारिश होने का अनुमान

पूर्वी राजस्थान में अगले 24 घंटों के दौरान बारिश होने का अनुमान है। धौलपुर, भरतपुर, सीकर, अलवर, जयपुर, सवाईमाधोपुर, दौसा, करौली और कोटा में बारिश की संभावना। जैसलमेर, जोधपुर और बारमेर का मौसम शुष्क रहेगा| 19 जनवरी तक दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बारिश होने की संभावना है। इस अवधि के दौरान दिल्ली और इसके आस-पास के सटे क्षेत्रों में घने कोहरे का भी अनुमान है। अनुमान है कि 20 जनवरी तक मौसम साफ होने लगेगा।

जम्मू कश्मीर और उत्तराखंड में हुई बारिश

पिछले 24 घंटों के दौरान जम्मू व कश्मीर में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी दर्ज हुई। उत्तराखंड में भी एक-दो स्थानों में पर हल्की से मध्यम बारिश देखने को मिली। पश्चिमी और दक्षिण-पश्चिमी उत्तर प्रदेश तथा मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश रिकॉर्ड की गई है। अरुणाचल प्रदेश में भी हल्की बारिश हुई है पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पश्चिमी मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, उत्तरी-मध्य महाराष्ट्र और कोंकण व गोवा सहित मुंबई में न्यूनतम तापमान में 2 से 4 डिग्री सेल्सियस तक गिरावट हुई।