Home एग्रीकल्चर मौसम चक्रवात तूफान वायु ने रोकी मानसून की राह, अगले सप्ताह बढ़ेगा मानसून
चक्रवात तूफान वायु ने रोकी मानसून की राह, अगले सप्ताह बढ़ेगा मानसून
चक्रवात तूफान वायु ने रोकी मानसून की राह, अगले सप्ताह बढ़ेगा मानसून

चक्रवात तूफान वायु ने रोकी मानसून की राह, अगले सप्ताह बढ़ेगा मानसून

अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान वायु ने मानसून को रोक दिया है, तथा अगले दो-तीन दिन मानसून की यही स्थिति बनी रहने का अनुमान है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार 15-16 जून तक चक्रवाती तूफान वायु का असर कम होगा, उसके बाद ही मानसून की आगे बढ़ने की संभावना है।

आईएमडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चक्रवाती तूफान वायु के कारण मानसून रुक गया है तथा अगले दो-तीन दिन मानसून की बारिश केरल और तमिलनाडु तक ही सीमित रहने का अनुमान है। उन्होंने बताया कि तूफान वायु का असर 16 जून तक कम हो जायेगा, उसके बाद ही मानसून आगे बढ़ेगा। आईएमडी के अनुसार 150 से ज्यादा की रफ्तार से गुजरात की तरफ बढ़ रहे चक्रवाती तूफान वायु ने अपनी दिशा बदल ली है। माना जा रहा है कि अब वह गुजरात के तटीय इलाकों को छू कर निकल जाएगा। हालांकि, खतरा अभी पूरी तरह ने नहीं टला है। चालू सीजन में मानसून आठ दिन की देरी से 8 जून को केरल पहुंचा था।

गुजरात में तेज बारिश का अनुमान

आईएमडी के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान गुजरात के कुछ स्थानों पर भारी से अति भारी बारिश होने की उम्मीद है। साथ ही कोंकण और गोवा सहित तटीय कर्नाटक, गोवा और पूर्वोत्तर राज्यों के एक-दो हिस्सों में भारी बारिश के साथ कुछेक जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश होने के आसार हैं।

कई राज्यों में प्री-मानसून की बारिश 

पश्चिम बंगाल, सिक्किम, छत्तीसगढ़ और आंतरिक कर्नाटक के अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। राजस्थान और मध्य प्रदेश में भी एक-दो जगहों पर बारिश की उम्मीद है। मध्य प्रदेश और राजस्थान में प्री-मानसून की बारिश कुछ जिलों में होने का अनुमान है।

गुजरात, ओडिशा और बंगला में कुछ जगहों पर हुई बारिश

आईएमडी के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के भागों में तेज भारी बारिश हुई। केरल, तटीय कर्नाटक, कोंकण और गोवा सहित दक्षिणी राजस्थान में भी कुछेक जगहों पर हल्की बारिश देखी गई। गुजरात, ओडिशा और गंगीय पश्चिम बंगाल के एक या दो स्थानों पर भारी बारिश के साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश देखी हुई। छत्तीसगढ़, बिहार, असम, मेघालय, नागालैंड, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश रिकॉर्ड की गई।

कई राज्यों में धूल भरी आंधी

पूर्वी और दक्षिणी राजस्थान, उत्तर और पूर्व मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, दिल्ली तथा पंजाब और हरियाणा के अधिकांश हिस्सों में गरज के साथ धूल भरी आंधी चली। गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तरी महाराष्ट्र, ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों के तापमान में 4-7 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड के तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई।