Home » एग्रीकल्चर » रुरल इकोनॉमी » गेहूं की सरकारी खरीद में धांधली, किसानों ने लगाया जाम

गेहूं की सरकारी खरीद में धांधली, किसानों ने लगाया जाम

MAR 21 , 2018

मध्य प्रदेश के इंदौर में गेहूं की न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीद नहीं होने से नाराज किसानों ने जाम लगा दिया। इंदौर की लक्ष्मीबाई कृषि उपज मंडी में गेहूं की फसल बेचने आए किसानों और व्यापारियों में झड़प होने से खरीद बंद करनी पड़ी।

मंडी में नए गेहूं की आवक लगातार बढ़ रही है लेकिन एमएसपी पर खरीद नहीं हो रही है। किसानों का आरोप है कि व्यापारी सांठगांठ करके गेहूं का दाम गिरा रहे हैं। चालू रबी विपणन सीजन 2018-19 के लिए केंद्र सरकार ने गेहूं का एमएसपी 1,735 रुपये प्रति क्विंटल तय किया हुआ है जबकि मंडी में व्यापारी किसानों से गेहूं की खरीद 1,500 से 1,600 रुपये प्रति क्विंटल की दर से कर रहे हैं।

मंडी में गेहूं की लग रही कम बोली से नाराज किसानों ने जमकर हंगामा किया। एमएसपी पर गेहूं की बिक्री ने होने से किसान मंडी के गेट पर ही धरने में बैठ गए और नारेबाजी करने लगे। नाराज किसानों ने मंडी में किसी भी गाड़ी को प्रवेश नहीं करने दिआ और न ही मंडी में स्थित गाड़ियों को बाहर निकले दिया।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.