Home एग्रीकल्चर रुरल इकोनॉमी महाराष्ट्र के किसान को 38 साल में नहीं मिला बिजली कनेक्शन, मंत्रियों के सामने पिया जहर
महाराष्ट्र के किसान को 38 साल में नहीं मिला बिजली कनेक्शन, मंत्रियों के सामने पिया जहर
महाराष्ट्र के किसान को 38 साल में नहीं मिला बिजली कनेक्शन, मंत्रियों के सामने पिया जहर

महाराष्ट्र के किसान को 38 साल में नहीं मिला बिजली कनेक्शन, मंत्रियों के सामने पिया जहर

महाराष्ट्र में एक 39 साल के किसान ने बुलढाना में कथित तौर पर दो मंत्रियों के सामने आत्महत्या करने की कोशिश की। पुलिस का कहना है कि वह बिजली कनेक्शन न मिलने से नाराज था। पीड़ित का नाम ईश्वर सुपराव खराते है। वह वडोडा गांव का निवासी है।

शनिवार को वह मलकापुर तालुका आया था जहां कृषि प्रदर्शनी का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में गृह राज्य मंत्री रणजीत पाटिल और जिला संरक्षक मंत्री मदन येरावार उपस्थित थे।

मलकापुर पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि पाटिल ने जैसे ही प्रदर्शनी का आयोजन किया किसान चिल्लाते हुए कहने लगा कि उसका परिवार पिछले 38 सालों से बिजली का कनेक्शन पाने की कोशिश कर रहा है लेकिन उसे मिल नहीं रहा है। खराते ने कथित तौर पर एक जहरीली चीज पी ली जिसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ लिया। किसान को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां वह खतरे से बाहर है। मामले की जांच की जा रही है।

1980 में बिजली कनेक्शन के लिए किया था आवेदन

अस्पताल मे भर्ती किसान ने बताया कि मेरे दादा ने 1980 में बिजली के कनेक्शन के लिए आवेदन किया था लेकिन वह हमें आज तक नहीं मिला है। हमारे निरंतर प्रयासों के बावजूद हमें कनेक्शन नहीं मिल रहा है। मैंने जिला प्रशासन को सूचित किया था कि मैं आत्महत्या करने वाला हूं लेकिन उन्होंने इसकी कोई परवाह नहीं की। इसलिए मैंने मंत्रियों के सामने जहर पी लिया

बिजली विभाग का दावा किसान ने किया बकाया भुगतान

इस मामले पर बुलढाना बिजली विभाग के अधिकारी ने कहा कि श्रीराम खराते ने 1980 में बिजली के कनेक्शन के लिए आवेदन किया था। उनकी अब मृत्यु हो चुकी है। 2006 ईश्वर खराते को एक डिमांड नोट भेजा गया था लेकिन वह उसका भुगतान नहीं कर पाया। यदि वह बकाया राशि का भुगतान कर देता है तो उसे कनेक्शन मिल जाएगा।

एजेंसी इनपुट