Home एग्रीकल्चर रुरल इकोनॉमी लॉकडाउन के दौरान एचपी मिल्कफेड की दूध खरीद 66 फीसदी बढ़ी
लॉकडाउन के दौरान एचपी मिल्कफेड की दूध खरीद 66 फीसदी बढ़ी
लॉकडाउन के दौरान एचपी मिल्कफेड की दूध खरीद 66 फीसदी बढ़ी

लॉकडाउन के दौरान एचपी मिल्कफेड की दूध खरीद 66 फीसदी बढ़ी

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देशभर में जारी लॉकडाउन के दौरान हिमाचल प्रदेश में एचपी मिल्कफेड की दूध की खरीद में 66 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई। लॉकडाउन के कारण राज्य के किसानों को दूध बेचने में आ रही पेरशानियों को दूर करने के लिए राज्य की डेयरी ने किसानों को सहयोग दिया है।

एचपी मिल्कफेड के अध्यक्ष निहाल चंद ने बताया कि लॉकडाउन से पहले डेयरी किसान घर-घर जाकर दूध बेचते थे, लेकिन जब से कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन हुआ है, दूध किसान बाहर नहीं जा पा रहे हैं, जिस कारण मिल्कफेड हर किसान के पास दूध की खरीद करने के लिए पहुंच रही है। उन्होंने बताया कि राज्य से एचपी मिल्कफेड लॉकडाउन से पहले दैनिक आधार पर 66 हजार लीटर दूध की खरीद करती थी, लेकिन अब खरीद बढ़कर एक लाख लीटर की हो गई है। उन्होंने बताया कि अब दूध आधारित उत्पादों जैसे पनीर और घी की मांग भी बाजार में बढ़ी है।

लॉकडाउन के कारण होटल, रेस्त्रां और दुकान आदि बंद होने से दूध की खपत में आई कमी

कोरोना वायरस के कारण देशभर में हुए लॉकडाउन के कारण होटल, रेस्त्रां और दुकान आदि बंद होने की वजह से दूध की खपत में कमी आने के कारण प्राइवेट कंपनियों ने दूध की खरीद कम कर दी थी, जिस कारण कई राज्यों में किसानों को काफी कम कीमत पर दूध बेचना पड़ रहा है। हालांकि इस दौरान अमूल आदि ने दूध की खरीद में बढ़ोतरी कर दी है, जिससे किसानों को उचित दाम मिल सके।

एजेंसी इनपुट