Home एग्रीकल्चर रुरल इकोनॉमी राजस्थान के किसानों को हर संभव मदद के लिये सरकार तैयार : चांदना
राजस्थान के किसानों को हर संभव मदद के लिये सरकार तैयार : चांदना
राजस्थान के किसानों को हर संभव मदद के लिये सरकार तैयार : चांदना

राजस्थान के किसानों को हर संभव मदद के लिये सरकार तैयार : चांदना

राजस्थान के भरतपुर जिले में ओलावृष्टि से किसानों की फसलों को हुई बर्बादी का जायजा लेने पहुचे युवा एवं खेल मंत्री अशोक चांदना ने कहा है कि राज्य सरकार हर मुसीबत में किसानों के साथ है और उन्हें प्राकृतिक आपदा की इस घड़ी में हरसंभव मदद कर राहत प्रदान करने में कोई कसर नही छोड़ेगी।

प्राकृतिक आपदा से आहत आत्महत्या करने बाले किसान गुलाब चंद के घर फुलवारा गांव पहुचे चांदना ने परिवार के सदस्यों से शोक संवेदना व्यक्त करते उन्हें ढांढस बँधाया। उन्होंने बताया कि एचडीएफसी एरगो बीमा कम्पनी के पास अब तक लगभग 23 हजार से अधिक की संख्या में फसल मुआवजा के आवेदन प्राप्त हो चुके हैं कोई भी पीड़ित किसान फसल की क्षति के मुआवजे से वंचित नहीं रहेगा।

बटाई पर खेती करने वाले किसान भी मुआवजा के हकदार

उन्होंने बताया कि आत्महत्या करने बाले किसान के परिवार द्वारा बटाई पर की जा रही फसल के खराबे के नुकसान का मुआवजा 5 रूपये के स्टाम्प पर इकरार नामे के आधार पर दिया जाएगा। मृतक किसान के परिवार को पात्रता के आधार पर राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ भी दिलाया जायेगा। बताया गया कि मृतक के परिवार को मुख्यमंत्री सहायता कोष से भी सहायता के लिए अनुशंषा कर दी गयी है। मृतक के परिवार के लिए राज्य सरकार की बीपीएल, पालनहार, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना सहित अन्य योजनाओं का लाभ भी प्राथमिकता से दिलाया जायेगा।

जयपुर के नींदड में किसानों ने समाधी सत्याग्रह स्थल पर ही होली मनाई

राजस्थान की राजधानी जयपुर के नींदड में किसानों ने जमीन समाधी सत्याग्रह स्थल पर ही होली मनाई। पिछले दस दिनों से किसान अपनी जमीन के बदले मिलने वाले मुआवजे को लेकर जमीन समाधि सत्याग्रह कर रहे है और होली के दिन होलिका दहन का कार्यक्रम भी किसानों ने आंदोलन स्थल पर ही किया। जेडीए जयपुर द्वारा आवासीय कॉलोनी के लिए अधिग्रहण की जा रही जमीन के विरोध में किसानों का यह आंदोलन पिछले दस दिनों से चल रहा है। किसानों की मांग है कि उन्हें नए भूमि अधिग्रहण बिल के हिसाब में मुआवजा दिया जाए।

एजेंसी इनपुट