Home एग्रीकल्चर पालिसी छत्तीसगढ़ बजट : किसान न्याय योजना की शुरुआत, धान किसानों के लिए 5,100 करोड़ का प्रावधान
छत्तीसगढ़ बजट : किसान न्याय योजना की शुरुआत, धान किसानों के लिए 5,100 करोड़ का प्रावधान
छत्तीसगढ़ बजट : किसान न्याय योजना की शुरुआत, धान किसानों के लिए 5,100 करोड़ का प्रावधान

छत्तीसगढ़ बजट : किसान न्याय योजना की शुरुआत, धान किसानों के लिए 5,100 करोड़ का प्रावधान

छत्तीसगढ़ सरकार का दूसरा बजट वर्ष 2020-21 का मंगलवार को पेश हुआ। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बतौर वित्त मंत्री सदन में बजट पेश करते हुए धान किसानों के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने कहा है कि किसानों को बोनस नहीं दे सकते लेकिन हम अपने राज्य के किसानों को धान का मूल्य 2,500 रुपये प्रति क्विंटल देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए बजट में 5,100 करोड़ का प्रावधान

उन्होंने कहा कि समर्थन मूल्य और खरीद के अंतर की राशि 'राजीव गांधी किसान न्याय योजना' के अंतर्गत हम राज्य के किसानों को देंगे। राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव से पहले इस योजना का जिक्र किया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए बजट में 5,100 करोड़ का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि किसानों का हित सर्वोपरि है। मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य सरकार ने 17 लाख 34 हजार किसानों का कर्ज माफ किया है। उन्होंने बस्तर में कुपोषण से जंग लड़ने के लिए परिवारों को गुड़ और चना देने की भी घोषणा की तथा इसके लिए बजट में 171 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

नए फूड पार्क के लिए 50 करोड़ रुपये का प्रावधान

उन्होंने कहा कि राज्य में नए फूड पार्क के लिए 50 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया। प्रधानमंत्री ग्रामीण योजना के लिए 1,603 करोड़ रुपये का प्रावधान रखा गया है। मुख्यमंत्री पेंशन योजना के लिए 150 करोड़ का प्रावधान है। सब्जियों के लिए छत्तीसगढ़ में फूड पार्क बनाए जाएंगे। बस्तर में फोर्टिफाइड चावल दिया जाएगा।

राज्य सरकार ने किसानों से 2,500 रुपये प्रति क्विंटल की दर से खरीदा है धान

राज्य सरकार ने इस बार 82.80 लाख टन धान की खरीद की है जबकि गत वर्ष राज्य से समर्थन मूल्य पर लगभग 80 लाख टन धान खरीदा गया था। राज्य सरकार ने धान की खरीद किसानों से 2,500 रुपये प्रति क्विंटल की दर से की है जबकि केंद्र सरकार ने खरीफ विपणन सीजन 2019-2020 के लिए कोमन वेरायटी के धान का एमएसपी 1,815 रुपये और ए ग्रेड धान का एमएसपी 1,835 रुपये प्रति क्विंटल तय किया हुआ है। गत वर्ष 2018-19 में कुल 15 लाख 71 हजार किसानों ने सरकार को धान बेचा था, जबकि इस बार खरीफ में अब तक 18 लाख 45 हजार किसानों से धान की खरीद हो चुकी है। पिछले खरीफ में भी राज्य सरकार ने किसानों से 2,500 रुपये प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदा था।