Home एग्रीकल्चर पालिसी महाराष्ट्र के किसानों को अंतरिम राहत के रूप में 600 करोड़ की मदद
महाराष्ट्र के किसानों को अंतरिम राहत के रूप में 600 करोड़ की मदद
महाराष्ट्र के किसानों को अंतरिम राहत के रूप में 600 करोड़ की मदद

महाराष्ट्र के किसानों को अंतरिम राहत के रूप में 600 करोड़ की मदद

केन्द्र सरकार ने महाराष्ट्र के किसानों को 600 करोड़ रुपये की अंतरिम राहत देने का फैसला किया है। अक्टूबर माह में बेमौसम बारिश के कारण राज्य में खरीफ की फसलों कपास, सोयाबीन, अंगूर, मक्का तथा गन्ने को भारी नुकसान हुआ है।

कृषि राज्य मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने शुक्रवार को राज्यसभा में राहत राशि की घोषणा की है। प्रश्नकाल के दौरान प्रश्नों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि न केवल महाराष्ट्र में बल्कि कई अन्य राज्यों में भी बारिश के कारण फसलें प्रभावित हुई हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किए गए पहले अनुरोध के आधार पर हमने नुकसान का आकलन करने के लिए एक प्रतिनिधिमंडल भेजा है। केंद्र सरकार ने राज्य के किसानों की मदद के लिए 600 करोड़ रुपये अंतरिम राहत के रुप में देने का निर्णय लिया है। महाराष्ट्र में अक्टूबर के बाद नवंबर में भी मौसम बारिश हुई है। उन्होंने कहा कि फसलों के नुकसान के बारे में केंद्र सरकार राज्य से मिलने वाली रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। राज्य से सूचना मिलने के बाद अनुदान जारी करने की कार्रवाई की जाएगी। राज्य सरकार पात्र किसानों को प्रमाणित करने के बाद धन जारी करती है।

फसलों को हुए नुकसान के आंकलन के लिए केंद्रीय टीम महाराष्ट्र पहुंची

खरीफ फसलों को बेमौसम बारिश से हुए नुकसान का आंकलन करने के लिए केंद्र सरकार की टीम तीन दिन के दौरे पर महाराष्ट्र के महाराठवाड़ा में शुक्रवार को पहुंच गई। राज्य सरकार के अनुसार पहले दिन औंरगाबाद के सिल्लोड, फूलमबरी और कन्नड़ तालुका में फसलों को हुए नुकसान का आंकलन किया जायेगा। शनिवार को टीम गेवराई और मजलगाँव के अलावा बीड जिले के धरुर और वाधवानी का दौरा करेगी। रविवार को जालना जिले के बदनापुर, भोकरदन और जाफराबाद का दौरा करेगी।

बेमौसम बारिश से मक्का, अंगूर, सोयाबीन और कपास सहित अन्य फसलों को नुकसान

राज्य सरकार के एक अधिकारी के अनुसार केंद्रीय टीम राज्य में बेमौसम बारिश से खराब हुई फसलों मक्का, अंगूर, सोयाबीन, कपास सहित बाजरा के नुकसान का जायजा लेगी। राज्य के औरंगाबाद, अमरावती और नासिक डिवीजन में अक्टूबर और नवंबर में बेमौसम बारिश से भारी नुकसान हुआ है। राज्य के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने 16 नवंबर को कहा था कि बेमौसम बारिश से प्रभावित किसानों को तत्काल राहत दी जायेगी। उन्होंने कहा कि था खरीफ फसलों के प्रभावित किसानों को 8,000 रुपये प्रति हेक्टेयर, दो हेक्टेयर तक के किसानों को नुकसान की भरपाई की जायेगी। राज्य के बागवानी किसानों को प्रति हेक्टेयर 18,000 रुपये, दो हेक्टेयर तक की सहायता दी जायेगी। इस महीने के शुरू में बेमौसम बारिश से प्रभावित किसानों लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विशेष सहायता के रूप में 10,000 करोड़ रुपये मंजूर किए थे।