Home एग्रीकल्चर पालिसी केंद्र 19.50 लाख टन दालों का बफर स्टॉक बनायेगा, पिछले साल से 20.74 फीसदी ज्यादा
केंद्र 19.50 लाख टन दालों का बफर स्टॉक बनायेगा, पिछले साल से 20.74 फीसदी ज्यादा
केंद्र 19.50 लाख टन दालों का बफर स्टॉक बनायेगा, पिछले साल से 20.74 फीसदी ज्यादा

केंद्र 19.50 लाख टन दालों का बफर स्टॉक बनायेगा, पिछले साल से 20.74 फीसदी ज्यादा

चालू फसल सीजन 2019-20 में केंद्र सरकार ने मूल्य स्थिरीकरण कोष (पीएसएफ) के तहत दालों का बफर स्टॉक 20.74 फीसदी बढ़ाकर 19.50 लाख टन करने का फैसला किया है जबकि पिछले फसल सीजन में 16.15 लाख टन दालों का बफर स्टॉक बनाया था।

केंद्रीय उपभोक्ता मामले मंत्रालय में सचिव अविनाश श्रीवास्तव की अध्यक्षता वाली मूल्य स्थिरीकरण कोष प्रबंधन समिति (पीएसएफएमसी) की बैठक में दालों के बफर स्टॉक को बढ़ाने का फैसला लिया गया है। दलहन के बफर स्टॉक में सबसे ज्यादा हिस्सेदारी अरहर की 10 लाख टन की होगी। इसके अलावा बफर स्टॉक में उड़द चार लाख टन, मसूर 1.50 लाख टन तथा मूंग एक लाख टन के अलावा तीन लाख टन चना का स्टॉक होगा।

कीमतें तेज होने पर सरकार बफर स्टॉक से उपलब्धता बढ़ाती है

केंद्र सरकार दालों की कीमतों को नियंत्रण में रखने के मकसद से पीएसएफ के तहत दालों का बफर स्टॉक बनाती है और बाजार में कीमतों में तेजी आने की स्थिति में बफर स्टॉक से उपलब्धता बढ़ाकर कीमतों को नियंत्रित करने की कोशिश करती है। हाल में उपभोक्ता मंत्रालय ने बफर स्टॉक से 8.47 लाख टन दालें राज्यों को बेचने का फैसला लिया था। बफर स्टॉक के अलावा नेफेड के पास इस समय करीब 21 लाख टन दालों का स्टॉक है। चालू खरीफ में नेफेड ने समर्थन मूल्य पर 1.39 लाख टन तथा 1,345 टन अरहर की खरीद की है।

खरीफ में दलहन उत्पादन में कमी आने की आशंका

चालू खरीफ में अक्टूबर और नवंबर में बेमौसम बारिश के कारण महाराष्ट्र, कर्नाटक और मध्यप्रदेश समेत अन्य दलहन उत्पादक राज्यों में दलहनी फसलों उड़द और मूंग को नुकसान हुआ है, जिससे इनके उत्पादन में कमी आने का अनुमान है। कृषि मंत्रालय के पहले आरंभिक अनुमान के अनुसार फसल सीजन 2019-20 में दालों का उत्पादन घटकर 82.3 लाख टन ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल खरीफ में 92.2 लाख टन का हुआ था। खरीफ दलहन की प्रमुख फसल अरहर का उत्पादन घटकर 35.4 लाख टन ही होने का अनुमान है जबकि इसके पिछले साल 35.9 लाख टन का उत्पादन हुआ था।

रबी दलहन की प्रमुख फसल चना की बुआई बढ़ी

मंत्रालय के अनुसार चालू रबी में दालों की बुआई बढ़कर 151.26 लाख हेक्टेयर में हो चुकी है जबकि पिछले साल इस समय तक 144.47 लाख हेक्टेयर में दालों की बुआई हुई थी। रबी दलहन की प्रमुख फसल चना की बुआई पिछले साल के 94.28 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 102.39 लाख हेक्टयेर में हो चुकी है। मसूर की बुआई चालू रबी में 15.80 लाख हेक्टेयर में और मटर की 9.40 लाख हेक्टेयर में हुई है जबकि पिछले साल इस समय तक इनकी बुआई क्रमश: 16.60 और 9.21 लाख हेक्टेयर में हुई थी।