Home एग्रीकल्चर न्यूज छह आपदा प्रभावित राज्यों के लिए केंद्र ने 7,214 करोड़ रुपये सहायता राशि को दी मंजूरी
छह आपदा प्रभावित राज्यों के लिए केंद्र ने 7,214 करोड़ रुपये सहायता राशि को दी मंजूरी
छह आपदा प्रभावित राज्यों के लिए केंद्र ने 7,214 करोड़ रुपये सहायता राशि को दी मंजूरी

छह आपदा प्रभावित राज्यों के लिए केंद्र ने 7,214 करोड़ रुपये सहायता राशि को दी मंजूरी

चालू खरीफ में सामान्य से कम बारिश के साथ बाढ़ और अन्य प्राकृतिक आपदा प्रभावित छह राज्यों और एक केंद्र शासित राज्य में हालात से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने 7,214.03 करोड़ रुपये के राहत पैकेज को मंजूरी दी है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में आज यहां हुई उच्च स्तरीय बैठक में प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावित हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, आंध्रप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक के साथ ही पुडुचेरी के किसानों को इस सहायता राशि का लाभ मिलेगा।

केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने सरकार के इस फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र सरकार ने सूखा प्रभावित आंध्रप्रदेश और गुजरात में खरीफ 2018-19 सत्र के लिए क्रमश: 900.40 करोड़ रुपये और 127.60 करोड़ रुपये की सहायता राशि को मंजूरी दी है। उन्होंने बताया कि सूखा प्रभावित कर्नाटक और महाराष्ट्र के लिए खरीफ 2018-19 सत्र के लिए क्रमश: 949.49 करोड़ रुपये और 4,714.28 करोड़ रुपये की सहायता राशि को मंजूरी दी है।

बाढ़ और भूस्खलन प्रभावित हिमाचल प्रदेश के लिए 317.44 करोड़ रुपये और बाढ़ प्रभावित राज्य उत्तर प्रदेश के लिए 191.73 करोड़ रुपये तथा चक्रवात प्रभावित पुडुचेरी के लिए 13.09 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं।

महाराष्ट्र ने केंद्र से मांग थे 7,900 करोड़ रुपये

महाराष्ट्र में राज्य सरकार ने 151 तहसीलों के 268 मंडल के 923 गांवों को सूखा प्रभावित घोषित किया हुआ है। राज्य ने केंद्र सरकार को 7,900 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा था। साथ ही केंद्र सरकार की मदद घोषित होने से पहले राज्य सरकार स्वयं 2,900 करोड़ रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की थी।

और भी कई राज्यों ने घोषित कर रखा है सूखा

पिछले महीने केंद्र सरकार के अधिकारियों की टीमों ने सूखा प्रभावित राज्यों का दौरा किया था, और उसके बाद ही यह माना जा रहा था कि केंद्र सरकार जल्द ही सूखा प्रभावित राज्यों में किसानों के लिए राहत पैकेज का ऐलान करेगी। कृषि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार आंध्रप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक के अलावा राजस्थान, झारखंड और ओडिशा ने भी कई जिलों में सूखा घोषित किया हुआ है।