Home एग्रीकल्चर न्यूज बागवानी फसलों का उत्पादन 3.7 फीसदी ज्यादा होने का अनुमान
बागवानी फसलों का उत्पादन 3.7 फीसदी ज्यादा होने का अनुमान
बागवानी फसलों का उत्पादन 3.7 फीसदी ज्यादा होने का अनुमान

बागवानी फसलों का उत्पादन 3.7 फीसदी ज्यादा होने का अनुमान

किसानों को भले ही आलू, प्याज और लहसुन का उचित दाम नहीं मिल पा रहा है, इसके बावजूद भी देश में बागवानी फसलों की बुवाई और उत्पादन में बढ़ोतरी हो रही है। पहले आरंभिक अनुमान के अनुसार फसल सीजन 2018-19 में बागवानी फसलों का उत्पादन 3.7 फीसदी बढ़कर 31.46 करोड़ टन होने का अनुमान है।

कृषि मंत्रालय के पहले आरंभिक अनुमान के अनुसार फसल सीजन 2018-19 में बागवानी फसलों की बुवाई 2.58 करोड़ हेक्टेयर में हुई है जोकि पिछले साल 2017-18 के 2.54 करोड़ हेक्टेयर से ज्यादा है। अत: बुवाई में हुई बढ़ोतरी से बागवानी फसलों का उत्पादन भी बढ़कर 31.46 करोड़ टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल 31.17 करोड़ टन का ही उत्पादन हुआ था। बागवानी फसलों का उत्पादन पिछले पांच साल के औसतन उत्पादन से 10 फीसदी ज्यादा है।

प्याज और आलू का उत्पादन बढ़ने का अनुमान

मंत्रालय के अनुसार प्याज का उत्पादन चालू फसल सीजन 2018-19 में 1.5 फीसदी बढ़कर 2.36 करोड़ टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इसका उत्पादन 2.32 करोड़ टन का हुआ था। इसी तरह से आलू का उत्पादन भी चालू फसल सीजन में 6 फीसदी बढ़कर 5.28 करोड़ टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल देश में 5.13 करोड़ टन आलू का उत्पादन हुआ था।

टमाटर का उत्पादन 2 फीसदी ज्यादा

मंत्रालय के पहले आरंभिक अनुमान के अनुसार टमाटर का उत्पादन 2 फीसदी बढ़कर 2.05 करोड़ टन होने का अनुमान है जबकि पिछले साल देश में 1.97 करोड़ टन टमाटर का ही उत्पादन हुआ था।