Home एग्रीकल्चर न्यूज उत्तर प्रदेश कांग्रेस का किसान जनजागरण अभियान शुरू, भाजपा ने किसानों को हर मोर्चे पर छला : प्रियंका
उत्तर प्रदेश कांग्रेस का किसान जनजागरण अभियान शुरू, भाजपा ने किसानों को हर मोर्चे पर छला : प्रियंका
उत्तर प्रदेश कांग्रेस का किसान जनजागरण अभियान शुरू, भाजपा ने किसानों को हर मोर्चे पर छला : प्रियंका

उत्तर प्रदेश कांग्रेस का किसान जनजागरण अभियान शुरू, भाजपा ने किसानों को हर मोर्चे पर छला : प्रियंका

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने किसान जनजागरण अभियान की शुरुआत की है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अभियान की शुरुआत की जानकारी देते हुए ट्वीट किया। उन्होंने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश का अन्नदाता हमारी प्राथमिकता है।

प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि यूपी कांग्रेस कमेटी ने किसान जनजागरण अभियान शुरू किया है, देश का अन्नदाता हमारी प्राथमिकता है, उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने किसानों के साथ हर मोर्चे पर छल किया है, आज किसान को फसल का दाम नहीं मिलता। खेती की लागत बढ़ गई है। उन्होंने आगे कहा कि दूसरी तरफ आवारा पशुओं के कहर से किसान परेशान है। हर जगह के किसानों की फसल आवारा पशु रौंद देते हैं और किसान को कोई मुआवजा तक नहीं मिलता। कांग्रेस पार्टी इस पूरे अभियान के जरिए किसानों के हक की आवाज को मजबूत करेगी।

राज्य के 2.72 करोड़ किसानों से संपर्क करने के लक्ष्य

उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने राज्य के 2.72 करोड़ किसानों से संपर्क करने के लक्ष्य तय किया है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (यूपीसीसी) के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पार्टी यात्रा के दौरान 55 लाख परिवारों से संपर्क करेगी और प्रत्येक पांचवां किसान परिवार इस अभियान का हिस्सा होगा। उन्होंने कहा कि 25,000 कांग्रेस कार्यकर्ता इस 40 दिन लंबी यात्रा में दूरदराज के गांवों में जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस यात्रा से बाद में पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी जुड़ेंगी। उन्होंने कहा कि हम किसानों और उनसे जुड़ी समस्याओं को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ 12,000 से ज्यादा 'नुक्कड़ सभाएं', 900 प्रेस वार्ताएं और 800 विरोध प्रदर्शन आयोजित करेंगे।

कांग्रेस किसानों से उनकी मांगों को लेकर 'किसान पत्र' भरवाएगी

उन्होंने कहा कि भाजपा ने चुनाव के दौरान फर्जी वादे करने के बाद अपनी सुविधा के अनुसार किसानों की समस्याओं की तरफ से आंखें मूंद ली है। उन्होंने कहा कि आवार पशु फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं, बिजली की बढ़ी कीमतें किसानों पर प्रतिकूल प्रभाव डाल रही हैं और मुख्यमंत्री द्वारा की गई ऋणमाफी योजना नाकाफी साबित हुई है। गन्ना किसानों को उनका भुगतान नहीं मिला है और राज्य सरकार ने गन्ना के राज्य परामर्श मूल्य (एसएपी) में कोई बढ़ोतरी नहीं की है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि किसान प्रतिकूल मौसम की मार की वजह से बुरी तरह प्रभावित हैं और इस बाबत अधिकतर किसानों को मुआवजा नहीं दिया गया है। यात्रा के दौरान, कांग्रेस किसानों से उनकी मांगों को लेकर 'किसान पत्र' भरवाएगी, जिसे राज्य सरकार को सौंपा जाएगा।