Home एग्रीकल्चर इंटरनेशनल जनवरी में खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात 6 फीसदी घटा
जनवरी में खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात 6 फीसदी घटा
जनवरी में खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात 6 फीसदी घटा

जनवरी में खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात 6 फीसदी घटा

केंद्र सरकार द्वारा रिफाइंड तेलों के आयात को प्रतिबंधित श्रेणी में शामिल करने से अखाद्य एवं अखाद्य तेलों के आयात में जनवरी में 6.2 फीसदी की गिरावट आकर कुल आयात 11,95,812 टन का ही हुआ है।

साल्वेंट एक्ट्रैक्ट्रर्स एसोसिएशन आफ इंडिया (एसईए) के अनुसार केंद्र सरकार रिफाइंड तेलों के आयात को 8 जनवरी को प्रतिबंधित श्रेणी में शामिल किया था। उसके बाद से विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने नेपाल ने 88,000 टन आरबीडी पामोलीन के आयात के लिए लाइसेंस जारी किए हैं। यह लाइसेंस शून्य शुल्क पर साफ्टा एग्रीमेंट के तहत जारी किए गए हैं।

पहली तिमाही में खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात 4.7 फीसदी घटा

एसईए के अनुसार जनवरी में अखाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात घटकर 11,95,812 टन का हुआ है जबकि पिछले साल जनवरी में इनका आयात 12,75,259 टन का हुआ था। जनवरी 2020 में हुए कुल आयात में खाद्य तेलों की हिस्सेदारी 11,57,123 टन की है। चालू तेल वर्ष नवंबर-19 से अक्टूबर-20 के पहली तिमाही नवंबर से जनवरी के दौरान खाद्य एवं अखाद्य तेलों के आयात में 4.7 फीसदी की कमी आकर कुल आयात 34,51,313 टन का हुआ है जबकि पिछलेे तेल वर्ष की पहली तिमाही में 36,20,316 टन का हुआ था। चालू तेल वर्ष की पहली तिमाही में खाद्य तेलों का आयात 33,60,927 टन का और अखाद्य तेलों का आयात 90,386 टन का हुआ है।

क्रुड पाम तेल की कीमतों में जनवरी में आई तेजी

जनवरी में आयातित आरबीडी पामोलीन की कीमतें घटकर भारतीय बंदरगाह पर 748 डॉलर प्रति टन रह गई जबकि दिसंबर 2019 में इसका भाव 755 डॉलर प्रति टन था। इस दौरान क्रुड पाम तेल का भाव बढ़कर भारतीय बंदरगाह पर 762 डॉलर प्रति टन हो गया जबकि पिछले महीने इसका भाव 736 डॉलर प्रति टन था। क्रुड सोयाबीन तेल के भाव जनवरी में भारतीय बंदरगाह पर 828 डॉलर प्रति टन रह गए, जबकि दिसंबर में इसके भाव 839 डॉलर प्रति टन थे।