Home एग्रीकल्चर इंटरनेशनल लॉकडाउन के कारण खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात मार्च में 32 फीसदी घटा
लॉकडाउन के कारण खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात मार्च में 32 फीसदी घटा
लॉकडाउन के कारण खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात मार्च में 32 फीसदी घटा

लॉकडाउन के कारण खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात मार्च में 32 फीसदी घटा

दुनिया भर में फेले कोरोना वायरस का असर देश में खाद्य एवं अखाद्य तेलों के आयात पर भी पड़ है। मार्च में इनके आयात में 32 फीसदी की भारी गिरावट आकर कुल आयात 9,41,219 टन का ही हुआ है।

सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एसईए) के अनुसार मार्च में खाद्य एवं अखाद्य तेलों का आयात 32 फीसदी घटकर 9,41,219 टन का ही हुआ है जबकि पिछले साल मार्च में इनका आयात 13,91,255 टन का हुआ था। चालू तेल वर्ष (नवंबर-19 से अक्टूबर-20) के पहले पांच महीनों नवंबर से मार्च के दौरान खाद्य एवं अखाद्य तेलों के आयात में 10 फीसदी की कमी आकर कुल आयात 53,91,807 टन का ही हुआ है जबकि पिछले तेल वर्ष की समान अवधि में इनका आयात 60,05,067 टन का हुआ था।

आरबीडी पॉमोलीन का आयात प्रतिबंधित श्रेण में होने के कारण आयात घटा

केंद्र सरकार 8 जनवरी को आरबीडी पॉमोलीन के आयात को प्रतिबंधित श्रेणी में डाला था, जिस कारण मार्च में इसका आयात घटकर 30,850 टन का ही हुआ है। पिछले साल के मार्च की तुलना में इसमें 90 फीसदी की गिरावट आई है। रबी तिलहन की प्रमुख फसल सरसों के साथ ही मूंगफली आदि की कटाई चल रही है लेकिन लॉकडाउन के कारण देशभर की मंडियां बंद है, जिस कारण मंडियों में इनकी दैनिक आवक नहीं हो रही है।