Home एग्रीकल्चर इंटरनेशनल चालू वित्त वर्ष के पहले दस महीनों में डीओसी निर्यात 7 फीसदी बढ़ा-उद्योग
चालू वित्त वर्ष के पहले दस महीनों में डीओसी निर्यात 7 फीसदी बढ़ा-उद्योग
चालू वित्त वर्ष के पहले दस महीनों में डीओसी निर्यात 7 फीसदी बढ़ा-उद्योग

चालू वित्त वर्ष के पहले दस महीनों में डीओसी निर्यात 7 फीसदी बढ़ा-उद्योग

ईरान, फ्रांस और थाइलैंड की आयात मांग बढ़ने से चालू वित्त वर्ष 2018-19 के पहले दस महीनों अप्रैल से जनवरी के दौरान डीओसी का निर्यात 7 फीसदी बढ़कर 26,92,452 टन का हुआ है जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में इसका निर्यात 25,16,657 टन का हुआ था।

साल्वेंट एक्सट्रेक्टर्स एसोसिएशन आफ इंडिया (एसईए) के कार्यकारी निदेशक डॉ. बीवी मेहता के अनुसार डीओसी में ईरान एक बड़े आयातक के रुप में उबरा है। उन्होंने बताया कि चालू वित्त वर्ष 2018-19 के अप्रैल से जनवरी के दौरान ईरान ने 2.8 लाख टन डीओसी का आयात किया है, जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में केवल 23,000 टन का ही आयात किया था। इसके अलावा फ्रांस और थाइलैंड की आयात मांग भी चालू वित्त वर्ष में बढ़ी है लेकिन वियतनाम और दक्षिण कोरिया की आयात मांग में कमी आई है। वित्त वर्ष 2017-18 में डीओसी का कुल निर्यात 30,25,538 टन का हुआ था।

सरसों डीओसी के निर्यात में हुई बढ़ोतरी

एसईए के अनुसार चालू वित्त वर्ष 2018-19 के जनवरी में डीओसी का निर्यात 5 फीसदी बढ़कर 2,83,850 टन का हुआ है जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 2,69,668 टन का ही निर्यात हुआ था। चालू वित्त वर्ष के पहले दस महीनों में सरसों डीओसी का निर्यात बढ़कर 8,97,537 टन का हुआ है जबकि पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की समान अवधि में इसका निर्यात केवल 4,86,917 टन का ही हुआ था।

सोया डीओसी की कीमतों में आई तेजी

घरेलू बाजार में सोयाबीन की कीमतों में तेजी आई तेजी सोया डीओसी के भाव बढ़े हैं लेकिन सरसों डीओसी की कीमतों में गिरावट आई है। भारतीय बंदरगाह पर जनवरी में सोया डीओसी के भाव बढ़कर औसतन 413 डॉलर प्रति टन हो गए जबकि दिसंबर में इसके भाव 364 डॉलर प्रति टन थे। सरसों डीओसी के भाव दिसंबर के 222 डॉलर प्रति टन से घटकर जनवरी में औसतन भाव 218 डॉलर प्रति टन रह गए।