Home » एग्रीकल्चर » एग्री ट्रेड » कमोडिटी मार्केट के डिजिटलाइजेशन पर जोर, वायदा और स्पॉट एक्सेंचजों का विलय हो

कमोडिटी मार्केट के डिजिटलाइजेशन पर जोर, वायदा और स्पॉट एक्सेंचजों का विलय हो

JUN 18 , 2018

एग्री जिंसों के व्यापार को बढ़ावा देने के लिए कमोडिटी पार्टिसपंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीपीएआई) द्वारा आयोजित छठें अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में वायदा एक्सचेंज के साथ स्पॉट एक्सचेंजों के एकीकरण के साथ ही कमोडिटी मार्केट के डिजिटलाइजेशन, नए उत्पादों की भूमिका और एकीकृत एक्सचेंजों के विकास पर जोर देने पर चर्चा हुई।

सम्मेलन में जल राज्य मंत्री अर्जुन मेघवाल के अलावा आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग तथा कमोडिटी एक्सचेंजों के प्रमुखों ने भाग लिया। कार्यक्रम में आए विशेषज्ञों के अनुसार कमोडिटी के कारोबार में अपार संभावनाएं है तथा आगामी दो साल में कमोडिटी मार्केट में जरूरी बदलाव किए जा सकते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार आने वाले सालों में देश की इकोनॉमिक ग्रोथ में कमोडिटीज का अहम रोल होगा।

सरकार की ओर कमोडिटी मार्केट के लिए उठाए गए कदमों जैसे जीएसटी, सेबी और एफएमसी मर्जर, यूनिफिकेशन लाइसेंसिंग आदि की जानकारी भी दी गई, जिससे कमोडिटी मार्केट को फायदा हुआ है।

सीएपीएआई की कन्वेशन कमेटी के चेयरमैन बी के सब्बरवाल के अनुसार सम्मेलन की थीम कमोडिटी बाजार विजन-2022 में एग्री कारोबार की ग्रोथ और चुनौतियों से निपटने के लिए विशेषज्ञों के सुझाव अहम है।


अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या
एपल स्टोर से

Copyright © 2016 by Outlook Hindi.