Home एग्रीकल्चर एग्री ट्रेड कपास का उत्पादन 9 फीसदी बढ़ने का अनुमान, 50 लाख गांठ निर्यात की उम्मीद-सीएबी
कपास का उत्पादन 9 फीसदी बढ़ने का अनुमान, 50 लाख गांठ निर्यात की उम्मीद-सीएबी
कपास का उत्पादन 9 फीसदी बढ़ने का अनुमान, 50 लाख गांठ निर्यात की उम्मीद-सीएबी

कपास का उत्पादन 9 फीसदी बढ़ने का अनुमान, 50 लाख गांठ निर्यात की उम्मीद-सीएबी

पहली अक्टूबर से शुरू हुए चालू फसल सीजन 2019-20 में कपास का उत्पादन 9 फीसदी बढ़कर 360 लाख गांठ (एक गांठ-170 किलो। होने का अनुमान है। साथ ही कपास का निर्यात बढ़कर 50 लाख गांठ और आयात कम होकर 25 लाख गांठ ही होने की उम्मीद है।

टेक्सटाइल कमिश्नर की अध्यक्षता में हुई कॉटन एडवाइजरी बोर्ड (सीएबी) की पहली बैठक में फसल सीजन 2019-20 में देश में कपास का उत्पादन 360 लाख गांठ होने का अनुमान जारी किया है जोकि पिछले साल की तुलना में 9.09 फीसदी अधिक है। पिछले साल देश में 330 लाख गांठ कपास का उत्पादन हुआ था। प्रमुख उत्पादक राज्य गुजरात में चालू फसल सीजन में कपास का उत्पादन बढ़कर 95 लाख गांठ होने का अनुमान है जबकि पिछले साल राज्य में 87.50 लाख गांठ का ही उत्पादन हुआ था। महाराष्ट्र में कपास का उत्पादन 82 लाख गांठ और तेलंगाना में 53 लाख गांठ होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इन राज्यों में क्रमश: 75.50 और 43 लाख गांठ का उत्पादन हुआ था।

राजस्थान, हरियाणा और मध्य प्रदेश में उत्पादन अनुमान कम

अन्य राज्यों राजस्थान में कपास का उत्पादन 25 लाख गांठ, हरियाणा में 22 लाख गांठ और पंजाब में 13 लाख गांठ होने का अनुमान है जबकि पिछले साल इन राज्यों में क्रमश: 26 लाख गांठ, 23 लाख गांठ और 10 लाख गांठ का ही उत्पादन हुआ था। भारी बारिश और बाढ़ से मध्य प्रदेश में चालू फसल सीजन में कपास का उत्पादन घटकर 20 लाख गांठ ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल राज्य में 24 लाख गांठ का उत्पादन हुआ था। आंध्रप्रदेश में चालू सीजन में 20 लाख गांठ, कर्नाटक में 18 लाख गांठ और तमिलनाडु में 6 लाख गांठ तथा ओडिशा में 4 लाख गांठ के उत्पादन का अनुमान है।

आयात कम होने एवं निर्यात बढ़ने का अनुमान

सीएबी के अनुसार फसल सीजन 2019-20 में कपास का निर्यात बढ़कर 50 लाख गांठ होने का अनुमान है जबकि पिछले साल केवल 44 लाख गांठ का ही निर्यात हुआ था। कपास का आयात पिछले साल के 31 लाख गांठ से घटकर 25 लाख गांठ ही होने का अनुमान है। सीएबी के अनुसार के चालू सीजन के आरंभ में पहली अक्टूबर 2019 को कपास का बकाया स्टॉक 44.41 लाख गांठ का बचा हुआ था जबकि पहली अक्टूबर 2020 में शुरू होने वाले सीजन के आरंभ में बकाया 48.41 लाख गांठ का स्टॉक बचने का अनुमान है।