Home एग्रीकल्चर एग्री ट्रेड कोरोना वायरस के खतरे के चलते भारतीय मिर्च का निर्यात प्रभावित, किसान परेशान : कांग्रेस
कोरोना वायरस के खतरे के चलते भारतीय मिर्च का निर्यात प्रभावित, किसान परेशान : कांग्रेस
कोरोना वायरस के खतरे के चलते भारतीय मिर्च का निर्यात प्रभावित, किसान परेशान : कांग्रेस

कोरोना वायरस के खतरे के चलते भारतीय मिर्च का निर्यात प्रभावित, किसान परेशान : कांग्रेस

कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने की कोशिश कर रहे चीन की भारत से लाल मिर्च की आयात मांग रुक गई है, जिससे आंध्रप्रदेश और तेलंगाना के किसानों को नुकसान हो रहा है। राज्यसभा में कांग्रेस के एक सदस्य ने यह मामला उठाते हुए मांग की, कि सरकार को इन किसानों के लिए मिर्च का न्यूनतम समर्थन मूल्य (‌एमएसपी) सुनिश्चित करना चाहिए।

शून्यकाल के दौरान उच्च सदन में यह मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस सदस्य केवीपी रामचंद्र राव ने कहा कि आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में लाल मिर्च की एक किस्म ‘तेजा’ का बहुतायत में उत्पादन होता है जिसका दूसरे देशों में निर्यात किया जाता है। उन्होंने कहा कि हर साल देश से करीब पांच हजार करोड़ रुपये की तेजा मिर्च का निर्यात किया जाता है और लगभग 60 फीसदी यह मिर्च चीन भेजी जाती है।

तेजा किस्म लालमिर्च का ज्यादातर निर्यात आंध्रप्रदेश और तेलंगाना से होता है

राव ने कहा कि तेजा किस्म लालमिर्च का ज्यादातर निर्यात आंध्रप्रदेश और तेलंगाना से होता है। लेकिन इन दिनों चीन कोरोना वायरस की समस्या का सामना कर रहा है जिसकी वजह से भारत से चीन को तेजा किस्म की लाल मिर्च के निर्यात पर रोक लगा दी गई है। इस रोक की वजह से आंध्रप्रदेश और तेलंगाना के किसान परेशान हैं।

हालात में सुधार होने तक, मिर्च रखने के लिए किसानों को भंडारण की सुविधा दी जाए

उन्होंने सरकार से इन दोनों राज्यों के किसानों के हितों की रक्षा करने का अनुरोध करते हुए मांग की तेजा किस्म की लाल मिर्च का न्यूनतम समर्थन मूल्य सुनिश्चित करना चाहिए ताकि किसानों को राहत मिल सके। साथ ही हालात में सुधार होने तक, मिर्च रखने के लिए इन किसानों को भंडारण सुविधा एवं बीमा कवर भी दिया जाना चाहिए। विभिन्न दलों के सदस्यों ने उनके इस मुद्दे से स्वयं को संबद्ध किया।

एजेंसी इनपुट