Home एग्रीकल्चर एग्री बिजनेस पंजाब में फसल बदलीकरण के लिये व्यापक माडल तैयार करने के निर्देश
पंजाब में फसल बदलीकरण के लिये व्यापक माडल तैयार करने के निर्देश
पंजाब में फसल बदलीकरण के लिये व्यापक माडल तैयार करने के निर्देश

पंजाब में फसल बदलीकरण के लिये व्यापक माडल तैयार करने के निर्देश

पंजाब को गेहूं-धान के चक्र से निकालने तथा तेजी से गिरते भूजल स्तर को रोकने के लिये राज्य योजना बोर्ड से फसल बदलीकरण के एजेंडा को आगे बढ़ाकर व्यापक फसल विविधीकरण माडल बनाने का आग्रह किया गया है।

राज्य के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने गेहूं तथा धान के फसल चक्र को तोड़ने तथा तेजी से गिरते भूजल स्तर को बचाने के लिए योजना बोर्ड से कृषि विभाग की विभिन्न स्कीमों की विस्तृत समीक्षा करने के निर्देश दिए हैं ताकि खेती को लेकर आवश्यक सुधार किए जा सके।

पानी की कम खपत वाली फसलों को प्राथमिकता देने की जरुरत

राज्य में तेजी से घटते जल स्तर पर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कम पानी की खपत वाली फसलों को प्राथमिकता देने की आवश्यकता पर बल दिया और किसानों को उन फसलों की बुआई के लिए राजी करने के लिए किसानों के हितों में नीति बनाने पर जोर दिया। मुख्यमंत्री ने किसानों को फसलों से संबंधित जानकारी देने के साथ, ही कीटनाशकों के उपयोग के समय की जानकारी के लिए ब्यूरो ऑफ एग्रीकल्चर एक्सटेंशन सर्विसेज के कामकाज की समीक्षा करने के लिए कहा।

कृषि उत्पादों के उचित मूल्य सुनिश्चित करने पर जोर

भविष्य की कृषि उपज विपणन रणनीति की आवश्यकता पर जोर देते हुए, मुख्यमंत्री ने कृषि उत्पादों के लिए पारिश्रमिक मूल्य सुनिश्चित करने के लिए एक सामान्य डिजिटल मंच की स्थापना के लिए भी सुझाव मांगे। इस अवसर पर वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने कृषि प्रयोजनों के लिए नीलाम की गई पंचायती भूमि पर धान की खेती पर प्रतिबंध लगाने का सुझाव दिया।

सब्जियों के विपणन को बढ़ाना जरुरी

वाइस-चेयरमैन प्लानिंग बोर्ड राजिंदर गुप्ता ने खाद्यान्न उत्पादन के मानकीकरण पर ध्यान केंद्रित करने का सुझाव दिया, ताकि इसे वैश्विक बाजार में और अधिक प्रतिस्पर्धी बनाया जा सके। किसान आयोग के अध्यक्ष अजय वीर जाखड़ ने ताजी सब्जियों के विपणन को बढ़ाने के लिए मार्कफेड और पंजाब एग्रो को अधिक अधिकार देने की आवश्यकता पर बल दिया।

एजेंसी इनपुट