Home एग्रीकल्चर एग्री बिजनेस पश्चिम बंगाल को छोड़ सभी राज्यों में पीएम किसान योजना लागू : कैलाश चौधरी
पश्चिम बंगाल को छोड़ सभी राज्यों में पीएम किसान योजना लागू : कैलाश चौधरी
पश्चिम बंगाल को छोड़ सभी राज्यों में पीएम किसान योजना लागू : कैलाश चौधरी

पश्चिम बंगाल को छोड़ सभी राज्यों में पीएम किसान योजना लागू : कैलाश चौधरी

प्रधानमंत्री किसान सम्मन निधि योजना (पीएम-किसान) पश्चिम बंगाल को छोड़ देश के अन्य सभी राज्यों में लागू हो गई है। केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने मंगलवार को लोकसभा में बताया कि पीएम किसान योजना देशभर में सफलापूर्वक लागू हो चुकी है।

उन्होंने बताया कि पीएम किसान योजना के तहत 11 मार्च 2020 तक देशभर के 8,69,79,391 लाभार्थियों की पहचान की जा चुकी है, हालांकि पश्चिम बंगाल के करीब 69 लाख किसान इसमें शामिल नहीं है क्योंकि पश्चिम बंगाल सरकार ने अभी तक इस योजना में शामिल होने का फैसला नहीं किया है।

पात्र लाभार्थियों की पहचान की जिम्मेदारी राज्यों की

उन्होंने कहा कि पीएम किसान योजना के पोर्टल पर पात्र लाभार्थियों की पहचान की जिम्मेदारी संबंधित केंद्र शासित प्रदेश और राज्य सरकारों की है। उन्होंने कहा कि इस योजना के लाभार्थियों की पहचान के लिए लगातार राज्य सरकारों से अनुरोध किया जा रहा है ताकि लाभार्थियों के पंजीकरण आदि में तेजी आ सके। उन्होंने कहा कि लाभार्थियों की पहचान के लिए शिविरों का आयोजन भी किया जा रहा है। इस बारे में राज्य सरकारों के साथ हर सप्ताह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जानकारी ली जा रही है।

पात्र किसानों की पहचान के काम में तेजी लाने पर जोर

उन्होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि इस योजना के 100 फीसदी पात्र लाभार्थियों का सत्यापन हो जाए ताकि उन्हें समय पर किश्त का भुगतान हो सके। उन्होंने बताया कि पात्र किसानों की पहचान के काम में तेजी लाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार से कहा गया है। पीएम-योजना के तहत केंद्र सरकार सालाना 6,000 रुपये तीन समान किश्तों में लाभार्थियों के बैंक खाते में डालती है। केंद्र सरकार की ओर से देश के 14 करोड़ किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि के तहत कवर करने की योजना है।