Home एग्रीकल्चर एग्री बिजनेस आलू उत्पादकता एवं निर्यात का हब बनकर उभरा गुजरात : मोदी
आलू उत्पादकता एवं निर्यात का हब बनकर उभरा गुजरात : मोदी
आलू उत्पादकता एवं निर्यात का हब बनकर उभरा गुजरात : मोदी

आलू उत्पादकता एवं निर्यात का हब बनकर उभरा गुजरात : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि बीते दो दशकों में गुजरात देश में आलू की उत्पादकता और निर्यात का हब बनकर उभरा है। प्रधानमंत्री वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए यहां आयोजित तीन दिवसीय विश्व आलू सम्मेलन-2020 को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि आलू की उत्पादकता के मामले में गुजरात देश का पहले नंबर का राज्य है और राज्य के किसान इसलिए अभिनंदन के अधिकारी हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि गुजरात में आलू उत्पादन की क्वांटिटी और क्वालिटी में यह वृद्धि बीते दो दशक में की गई नीतिगत पहल, नीगितगत फैसले और सिंचाई की आधुनिक और पर्याप्त सुविधाओं के कारण हुई है। उन्होंने कहा कि बेहतर नीतिगत फैसलों के कारण आज देश के बड़े आलू प्रसंस्करण इकाइयां गुजरात में हैं और ज्यादातर आलू निर्यात भी गुजरात से होता है। उन्होंने कहा कि गुजरात में कोल्ड स्टोरेज का एक बड़ा और आधुनिक नेटवर्क है, जिनमें अनेक विश्वस्तरीय सुविधाएं उपलब्ध हैं। साथ ही, सुजलां सुफलां और सौणी योजना के माध्यम से गुजरात के उन क्षेत्रों में भी सिंचाई की सुविधा पहुंची है जो कभी सूखे से प्रभावित रहते थे।

सरकार का प्रयास खेती की लागत में कमी आए

प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों के प्रयास और सरकार की पॉलिसी के कॉम्बिनेशन का ही परिणाम है कि अनेक अनाजों और दूसरे खाने के सामान के उत्पादन में भारत दुनिया के टॉप-तीन देशों में शामिल है। उन्होंने आगे बताया कि सरकार का प्रयास है कि 'खेती की लागत में कमी आए, साथ ही किसान का खर्च कम हो। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस कॉन्क्लेव की खास बात ये भी है कि यहां पोटेटो कॉन्फ्रेंस, एग्री एक्सपो और पोटेटो फील्ड डे, तीनों एक साथ हो रहे हैं। मोदी ने कहा कि करीब 6,000 किसान खेत दिवस के मौके पर खेतों में जाने वाले हैं। ये प्रशंसनीय प्रयास है।

खेती में आधुनिक तकनीकों के उपयोग पर सरकार का जोर

प्रधानमंत्री ने कहा कि '21वीं सदी में कोई भूखा और कुपोषित न रहे, इसकी भी एक बड़ी जिम्मेदारी आप सभी के कंधों पर है। मुझे विश्वास है कि आने वाले तीन दिनों में आप इसी दिशा में गंभीर मंथन करेंगे। उन्होंने कहा कि इसके साथ-साथ एग्रीकल्चर सेक्टर में आधुनिक बायोटेक्नॉलॉजी, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, ब्लॉक चेन, ड्रोन टेक्नोलॉजी, ऐसी हर नई टेक्नॉलॉजी का कैसे बेहतर उपयोग हो सकता है, इसे लेकर भी आपके सुझाव और समाधान अहम रहेंगे। गुजरात देश में आलू का एक मुख्य उत्पादक राज्य है। भारत में आलू के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में 19 फीसदी वृद्धि हुई है जबकि पिछले 11 साल में गुजरात में करीब 170 फीसदी क्षेत्र बढ़ा है। वर्ष 2006-07 में 49.7 हजार हेक्टेयर से 2017-18 में 133 हजार हेक्टेयर। साथ ही 30 टन प्रति हेक्टेयर से अधिक उत्पादकता के कारण गुजरात देश के अन्य राज्यों से उत्पादकता में नवंर वन है।

एजेंसी इनपुट