Home एग्रीकल्चर एग्री बिजनेस सीजन के पहले तीन महीनों में 10 लाख गांठ कपास का हुआ निर्यात-उद्योग
सीजन के पहले तीन महीनों में 10 लाख गांठ कपास का हुआ निर्यात-उद्योग
सीजन के पहले तीन महीनों में 10 लाख गांठ कपास का हुआ निर्यात-उद्योग

सीजन के पहले तीन महीनों में 10 लाख गांठ कपास का हुआ निर्यात-उद्योग

पहली अक्टूबर 2019 से शुरू हुए चालू सीजन में 31 दिसंबर तक 10 लाख गांठ (एक गांठ-170 किलो) कपास का निर्यात हुआ है जबकि इस दौरान करीब 6.50 लाख गांठ का आयात भी हो चुका हैं। पहली अक्टूबर से शुरू हुए चालू फसल सीजन 2019-20 में कपास का उत्पादन 13.62 फीसदी बढ़कर 354.50 लाख गांठ होने का अनुमान है।

कॉटन एसोसिएशन आफ इंडिया (एसईए) द्वारा जारी दूसरे अग्रिम अनुमान के अनुसार कपास का उत्पादन 354.50 लाख गांठ होने का अनुमान है जोकि पिछले साल के 312 लाख गांठ से ज्यादा है। पहली अक्टूबर से 31 दिसंबर तक उत्पादक मंडियों में 125.89 लाख गांठ कपास की आवक हो चुकी है। चालू सीजन में उत्पादन अनुमान ज्यादा होने के कारण यार्न मिलों की मांग भी कमजोर है, जिस कारण उत्पादक मंडियों में कपास के दाम न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से नीचे बने हुए हैं। मंडियों में कपास के भाव 4,900 से 5,200 रुपये प्रति क्विंटल है जबकि केंद्र सरकार ने चालू फसल सीजन 2019-20 के लिए कपास का एमएसपी 5,250-5,550 रुपये प्रति क्विंटल तय किया हुआ है।

गुजरात, महाराष्ट्र और तेलंगाना में उत्पादन अनुमान ज्यादा

एसोसिएशन के अनुसार उत्तर भारत में कपास की पैदावार 61 लाख गांठ होने का अनुमान है जबकि पिछले साल उत्तर भारत के राज्यों में 59.50 लाख गांठ कपास का उत्पादन हुआ था। मध्य भारत के राज्यों में कपास का उत्पादन 197 लाख गांठ होने का अनुमान है जबकि पिछले साल 180.63 लाख गांठ का ही उत्पादन हुआ था। गुजरात में कपास का उत्पादन 96 लाख गांठ होने का अनुमान है जबकि पिछले साल राज्य में 88 लाख गांठ कपास उत्पादन हुआ था। वहीं महाराष्ट्र में उत्पादन 85 लाख गांठ होने का अनुमान है जोकि पिछले साल के 70 लाख गांठ से ज्यादा है। तेलंगाना में 51 लाख गांठ और कर्नाटक 20.50 लाख गांठ तथा आंध्रप्रदेश में 15 लाख गांठ उत्पादन का अनुमान है। अन्य राज्यों में मध्य प्रदेश में 16 लाख गांठ, तमिलनाडु में पांच और ओडिशा में 4 लाख गांठ उत्पादन का अनुमान है।

निर्यात पिछले साल के लगभग बराबर होने का अनुमान, आयात में कमी की आशंका

सीएआई के अनुसार चालू फसल सीजन में 42 लाख गांठ कपास के निर्यात का अनुमान है जोकि पिछले साल के लगभग बराबर ही है। कपास का आयात चालू सीजन में घटकर 25 लाख गांठ ही होने का अनुमान है जबकि पिछले साल 32 लाख गांठ कपास का निर्यात हुआ था। कॉटन एडवाइजरी बोर्ड (सीएबी) ने फसल सीजन 2019-20 में देश में कपास का उत्पादन 360 लाख गांठ होने का अनुमान जारी किया है जबकि कृषि मंत्रालय के पहले आरंभिक अनुमान के अनुसार 322.67 लाख गांठ कपास के उत्पादन का अनुमान है।